नाबालिग लडकेे को उल्टा लटका कर खंभे से बांधा, फिर पीट पीट कर मरने के कगार पर पहुंचा दिया

October 21, 2020 3:07 pm0 commentsViews: 583
Share news

— नाबालिक कथित चोर अमानवीय अत्याचार, पलिस ने लड़के को जेल भेजा और दरिंदे खुलेआम धूम रहे

निजाम अंसारी

सिद्धार्थनगर, शोहरतगढ़। थानांतर्गत ग्राम रोमनदेइ में शनिवार की रात की चोरी के आरोप में पकड़ कर दरिंदगी की हद तक पीटे गये एक कथित चोर की हालत  अभी भी नाजुक बनी हुई है। १४ साल के उस कथित चोर बच्चे ने चोरी की या नहीं, यह जांच का विषय है, लेकिन उसे लोगों ने  जिस हैवानियत से पीटा है, वह जरूर शर्मनाक है और उससेे भी शर्मनाक है पुलिस द्धारा कोई कार्रवाई न करना। 14 साल के कथित चोर बच्चे को अमानवीय यातना देने वालों का विडियो भी वायरल हुुआ, मगर लड़़केे को तो अरेेस्ट किया गया और दरिंदों काेे छुुआ तक नहीं गया

 घटना शनिवार देर रात लगभग 12 बजे की है। बताया जाता है कि गांव का 14 15 वर्ष  का लड़का कादर पुत्र रफीक  देर रात में गाँव के  हीरा के घर में चोरी की नीयत से घुसा। मगर हीरा की पत्नी ने उसे घर में घुसते देख लिया। फलतः उसने बाहर से दरवाजा बन्द कर चोर चोर का शोर मचा दिया। शोर सुनकर हीरा के अगल बगल के परिवारीजन व पड़ोसी आक्रामक होकर पहले लड़के को शटर में उल्टा लटका कर बांध दिया, फिर उसके ऊपर लाठी डंडों की बौछार कर दी। जिससे आरोपी लड़के कादर की हाल पहुँचने के कारण युवक को मारने  पीटने का कार्यक्रम चलता ही रहा।  पुलिस के पहुँचने पर वह बेहोश हो चुका था।

इस दौरान उक्त पूरे प्रकरण का वडियो भी वायरल हो गया। लोगों ने बहुत वहशियाना तरीके से पिटते उस लड़के देख और उसकी  चारों तरफ जम कर निंदा भी होने लगी। लोग पीटने वालों की गिरफतारी की मांग भी करने लगे। मगर इस पर ध्यान देने के बजाए पुलिस ने सोमवार देर शाम लड़के को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। मगर लड़के के पक्ष द्वारा लिखाये गए मुकदमे पर किसी तरह की कोई गिरफ्तारी नहीं कि गई है।

बताते चलें कि क्षेत्र की इस बड़ी घटना को बहुत ही निचले स्तर पर न्यूनीकरण कर दिया गया । दो दर्जन से अधिक लोग घंटों कानून को अपने हाथों में लेकर उसे मारते पीटते रहे बावजूद इसके लड़के को मारने वालों पर अभी तक कार्यवाही न किये जाने से आम आदमी के न्याय की अवधारणा को बहुत गहरा धक्का लगा है।

समाचार लिखने तक उस बच्चे की हालत की हालत नाजुक बनी हुई है। पुलिस कुछ लोगों के आरोप लगाने पर एक नाबालिग लड़के को चोर मान कर उसे गिरफ्तार तो किया, मगर इस घटना के पीछे कुछ और हो सकता है इस पर किसी ने ध्यान नहीं दिया। यही नहीं उस लड़के कि ऐसी पिटाई हुई कि उसे पी जी आई ले जाना पड़ा। वहीं से वापस आने के बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया, मगर उस लड़के की वहशियाना पिटाई करने वालों को क्यों छोड़ दिया गया, यह एक बड़ा सवाल है।

(553)

Leave a Reply


error: Content is protected !!