पूर्व प्रधान के कत्ल के बाद पुलिस की शह पर लाखों हड़पने की कोशिश

October 1, 2018 9:47 am0 commentsViews: 583
Share news

ओजैर खान

बढनी, सिद्धार्थनगर। दो माह पूर्व हुई ग्राम राजेश चौधरी की हत्या के बाद भी उनका परिवार संकट से मुक्ति नहीं पा रहा। प्रधान की हत्या के बाद अब उनके बकाया पैसे की वसूली को लेकर परिवार दर दर भटक रहा है और पुलिस सारा प्रकरण जानते हुए भी राजनीतिक दबाव में उनकी मदद नहीं कर रही है।

जिले के ढेबरूआ थाना क्षेत्र के मधवानगर गांव के पूर्व प्रधान राजेश चौधरी गाँव जवार के लोगों को जरूरत पड़ने पर रूपये उधार दे दिया करते थे। उसी रूपये के लेन देन को लेकर दो माह पहले उनकी हत्या कर दी गयी थी। हत्या के बाद परिवार को उनके हाथ के लिखे डायरी में गांव व क्षेत्र के बारह लोगों के पास कई लाख रूपये बकाया होने की बात सामने आई थी।

आरोप के अनुसार उसमे से कइयों ने तब बकाया होने की बात स्वीकार भी कर ली थी। गाँव का एक बकायेदार चार लाख पचास हजार में से एक लाख रूपया दर्जनों लोगों के सामने नगद देकर और साढ़े तीन लाख रूपये बाद में देने की बात सार्वजनिक रूप से स्वीकार की थी, पर अब वह भी और बकायेदारों की भाँति रूपया देने से मुकर गया है ।

मृतक राजेश के लड़के सुनील चौधरी ने थाने व पुलिस चौकी पर बकायेदारों के नाम रकम लिखी तहरीर देकर पैसा वापस दिलाने की माँग की है । बताते चलें राजेश चौधरी एक मिलनसार दूसरों के दुख सुख मे हर तरह से मदद करने वाले लोगों में से थे, अपने पीछे पत्नी, अविवाहित दो बेटे एक बेटी छोड़ गये हैं घर की दहलीज न लाघने वाली पर्दानशीन पत्नी व बच्चे आर्थिक तंगी से परेशान पैसा वसूली के लिए थाना चौकी का चक्कर काट रहे हैं ।

दूसरे लड़के महेश 17 व पत्नी ने बताया कई बकायेदार पुलिस की पूछताछ से बचने के लिए एक स्थानीय वरिष्ठ भाजपा नेता व नेत्री की शरण में जाकर पुलिस पर दबाव डलवाकर पैसा न देने का हथकंडा अपना रहे हैं ।

उक्त संबंध में चौकी इंचार्ज रामेश्वर यादव ने कहा मृतक राजेश चौधरी के बेटे सुनील ने बकायेदारों की सूची सहित तहरीर दी है। अभी तक के जाँच में कई लोगों के पास बकाया होना पाया गया है राजेश जमीन खरीद बिक्री का छोटा मोटा कार्य करता था उसी लेन देन में उसकी हत्या हुई थी। पुलिस बकाया दिलाने का हर संभव प्रयास कर रही है। पीड़ित धैर्य रखे पुलिस किसी के दबाव में न आकर न्यायोचित कार्य करेगी ।

(504)

Leave a Reply


error: Content is protected !!