खाता धारकों का धन गबन करने को लेकर पूर्वांचल बैंक के खिलाफ धरना, को लेकर मुकदमा

November 18, 2019 3:43 PM0 commentsViews: 1310
Share news

 

— एक महीने में रकम वापसी तथा दोषियों का खुलासा न हुआ तो होगा विशाल आंदोलन- अफरोज मलिक

अजीत सिंह

 

 सिद्धार्थनगर। डुमरियागंज तहसील अन्तर्गत रगड़गंज कलेनियां स्थित पूर्वांचल ग्रामीण बैंक की शाखा में कर्मचारियों द्धारा दर्जनों खातेदारों के खाते से लाखों रुपये निकाल लेने का सनसनी खेज मामला प्रकाश में आया है। इस खुलासे के बाद वहां के ग्रामीणों में में भय और आक्रोश फल गया। मामले में कोई कर्रवाई न होते देख ग्रामीणों ने स्थानीय नेता एवं समाजसेवी अफराज मलिक और डा. अफराज के नेतृत्व में में धरना दिया तथा बैक प्रशासन का ज्ञापन देकर उपभाक्ताओं की धन वापसी की मांग की गई।

बताया जाता है कि पूर्व घोषित कार्यक्रम के अनुसार क्षेत्र के उपभोक्ताओं सहित ग्रामीणों ने एकजुट होकर आज सोमवार को बैंक खुलते ही धरना शुरू कर दिशा। धरने के दौरान अनपे सम्बोधन में समाजसेवी एवं जय हो फाउंडेशन के अध्यक्ष अफरोज अहमत ने आरोप लगााया कि बैंक द्धारा अधिकृत ग्राहक सेवा केन्द्र के कर्मचारी ने खोते दारों के पैसे निकाले। साथ में उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि ग्राहक सेवा केन्द्र के नाम पर कर्मचारी बैंक में ही काम कर रहा था। उसका बाहर कोई भी पटल नहीं थां ऐसे में इस आशंका को बल मिलता है कि इस मामले में बैक की भी है।

सभा में डा.अफरोज खान  ने कहा कि अगर उपभक्ताओं के पैसे वापस नहीं हुए तो आगे और भी संघर्ष होगा।उन्होंने कहा कि ग्रहक सेवा केन्द्र की नियुक्ति बैंक ही करता है। साफ है कि इस पूरे मामले का जिम्मेदार बैक है। ग्रहक बैंक को जानता है, किसी दूसरे को नहीं।

धरने के दौरान बैंक कर्मियों के आयवसन पर धरना खतम किया गया। इस अवसर पर अफराज मलिक और अफरोज खान के नतृत्व में शाखा प्रबंधक को दिये ज्ञापन में कहा गया है सभी पीड़ित उपभोक्ताओं की रकम वापस करने के साथ मामले की जांच की जाये। शाखा प्रबंधक विजय प्रकाया ने पसके लिए एक माह का समय मांगा है। याद रहे कि हाल के दिनों में बैंक से  मोंमिना, सौरभ चौधरी, निधि तिवारी गोल्डी तिवारी आदि के खातों से रकम निकाल ली गई है। अब अन्य ग्रामीण भी अपने खोतों की जांच में लग गये हैं।

 

Leave a Reply