जनसम्पर्क के दौरान बसपा के आफताब ने सांसद की कार्यशैली पर उठाये सवाल

October 15, 2018 4:28 PM0 commentsViews: 564
Share news

नजीर मलिक

सिद्धार्थनगर। आगामी चुनाव के पूर्व लोकसभा क्षेत्र के हर गांव में दस्तक दे कर जनसम्पर्क की रणनीति के क्रम में बसपा के डुमरियागंज लोकसभा क्षेत्र प्रभारी और पार्टी के घोषित प्रत्याशी आफताब आलम ने सोमवार को कपिलवस्तु विधानसभा क्षेत्र के लगभग तीन दर्जन गांवों में लोगों से सम्पर्क कर याद दिलाया कि बीते दस सालों में इस क्षेत्र के संसद प्रतिनिधि ने बुनियादी सुविधाओं के विकास के लिए कुछ नहीं किया। इसलिए अब बदलाव जरूरी हो गया है।

आफताब आलम उर्फू गुड्डू भैया ने बसपा के जिलाध्यक्ष दिनेश चन्द्र गौतम, पूर्व अध्यक्ष पी.आर आजाद के साथ, ग्राम मधुबेनिया, बर्डपुर, नोनहवां, युसुफपुर, मोहाना, लोटन, नेतवर, सोहांस, उसका बाज़ार, पकड़ी, जोगिया, नादेपार, मसिना, सनई सहित तीन दर्जन गावों का दौरा कर क्षेत्रीय सांसद की कार्यशैली पर सवाल उठाया।

 

सांसद से सवाल करें, कितने साल लगेंगे नेशनल हाइवे के निर्माण में-आफताब

उन्होंने ग्रामीणों से कहा कि माननीय सांसद पिछले दस सालों से सरकारी पार्टी के सांसद रहे हैं। लेकिन गांवों की बुनियादी समस्याएं ज्यों की त्यों हैं। बिजली, पानी, शिक्षा, स्वास्थ्य आदि सेवाओं की दशा दयनीय है। ले दे कर बड़ी सड़क के नाम पर एक नेशनल हाइवे के निर्माण का श्रेय लिया। उसमें भी हाइवे का दूसरे जिले का हिस्सा तो बन गया लेकिन सांसद के क्षेत्र यानी हमारे जिले के ककरहवा से सिद्धार्थनगर- बांसी-तिलौली तक का हिस्सा वैसे ही पड़ा है। उन्होंने ग्रामीणों से कहा कि वह सांसद से सवाल करें कि आखिर इस सड़क के बनने में अभी कितने साल लगेंगे?

बसपा नेता आफताब आलम ने गावों में लोगों से बात की, उनकी समस्याएं सुनीं और उनसे निजात दिलाने की उम्मीद भी दिलाई।लोगों से खाद बीज की समस्याओं पर चर्चा की। उन्होंने कहा कि आगामी चुनाव में मेरा सहयोग करें और अगर वे इस लोकसभा क्षेत्र से निर्वाचित हुए तो गांवों का विकास होगा, अन्यथा उनका गरेबान आपके हाथ में होगा। उन्होंने कहा कि जनता सत्ता पविर्तन कर दे, वे हर हाल में व्यवस्था परिवर्तन कर देंगे।

दौर में उनके साथ बसपा नेता त्रिलोकी नाथ तिवारी, मनोज मिश्रा, राजाराम लोधी, रामगति वरुण, प्रेम नारायन सिंह, शमीम अहमद, घनश्याम गौतम, नन्हे पाण्डेय, राकेश प्रजापति, रामशंकर मौर्या, बृजमोहन गौतम, अमरेश पाल यादव, मोलहू यादव, अदालत प्रधान सहित तमाम लोग शामिल रहे।

 

Leave a Reply