बिगड़ैल बीएसए को किसान यूनियन ने बनाया बंधक, छुड़ाने के लिए कई अफसर जुटे

April 1, 2016 4:26 pm0 commentsViews: 259
Share news

नजीर मलिक

अफसरों से समझौता वार्ता करते भाकियू नेता

अफसरों से समझौता वार्ता करते भाकियू नेता

सिद्धार्थनगर। आये दिन अधीनस्थों से गाली गलौज कर उनका दिमाग ठीक करने का दावा करने वाले बिगड़ैल बेसिक शिक्षाधिकारी अजय सिंह का दिमाग आज किसान यूनियन के कार्यकर्ताओं ने ठीक कर दिया। लाठी डंडे से लैस वर्करों ने उनके चेंबर की घेराबंदी कर बंधक बना लिया। उन्हें आजाद कराने के लिए मौके पर कई अफसर जुटे हुए थे।

जानकारी के मुताबिक बीएसए अजय सिंह द्धारा अधीनस्थों के साथ किये जाने वाले दुर्व्यवहार सहित कई मामलों को से नाराज किसान युनियन के वर्करों ने आज 12 बजे के आसपास बेसिक शिक्षाधिकारी का कार्यालय घेर लिया। बीएसए ने कई बार अपने चेम्बर से निकलने की कोशिश की तो भाकियू वर्करों ने लाठियां चमका का उन्हें अंदर ही बंधक के रूप में कैद कर दिया।

एक बार तो वह भागना चाह रहे थे, मगर े महिला वर्करों ने उन्हें दौड़ा लिया। कुछ उनकी कार पर के बोनट पर चढ़ गईं और पुरूष वर्करों ने असंसदीय शब्दों के प्रयोग के साथ उन्हें खदेड़ कर दुबारा चेम्बर के अंदार धकेल दिया।

बताया जाता ह कि हालात खराब होते और नाराज वर्करों का मूड देख प्रशासन को सूचना दी गई। इस पर एसडीएम सदर राजित राम, सीओ अकमल खान, डीएसओ आदि कई अफसर मौके पर पहुंचे और सुलह समझौते में लग गये। समाचार लिखे जाने तक समझौते का प्रयास जारी था।

इस बारे में किसान यूनियन का आरोप है कि बीएसए अजय सिंह अपने मातहतों से रोजाना गाली गलौज करते है। उन्होंने जिले में भ्रष्टाचार का रिकार्ड तोड़ रखा है। समायोजन में घपले में भारी वसूली का भी उनपर आरोप है।

भाकियू की पंचायत में जिलाध्यक्ष इश्तियाक अहमद, मंडल अध्यक्ष पटेश्वरी चौधरी समेत इन्द्रजीत यादव, पप्पू बाबा, महेन्द्र चौधरी राकेश श्रीवास्तव, अर्जुन सिंह लोधी आदि शामिल रहे।

(1)

Leave a Reply


error: Content is protected !!