मोदी जी के कारण विदेशों में बढ़ा है भारत का स्वाभिमान- जगदम्बिका पाल

January 21, 2019 3:27 pm0 commentsViews: 140
Share news

अजीत सिंह

सिद्धार्थनगर। आज दुनियां मे अगर भारत का स्वाभिमान सम्मान ऊपर जा रहा तो केवल और केवल भारत के लोकप्रिय नरेंद्र मोदी जी के त्याग तपस्या और ईमानदारी के कारण बना है। यह विचार भाजपा के सांसद जगदम्बिका पाल ने खेसरहा मण्डल के सेक्टर संयोजक और बूथ अध्यक्षों के सम्मेलन और सम्मान समारोह को सम्बोधित करते हुए शेषमणि चतुर्वेदी इंटर कालेज बसडीला मरवटिया बाजार में व्यक्त की।

जगदम्बिका पाल ने कहा कि आज जो गठबंधन उत्तर प्रदेश में हुआ है वो स्वार्थों का गठबंधन है अलग अलग प्रांतों में अलग अलग नेतृत्व, अलग अलग स्वार्थ, यह ज्यादे दिन चलने वाला नही इस गठबंधन के सपने को यहां पर उपस्थित विचारों से ओत प्रोत राष्ट्र वादी राष्ट्रभक्त कार्यकर्ता करने को तैयार है भाजपा कार्यकर्ता अपने लिये नही बल्कि देश के लिये जीता और मरता है ।

जगदम्बिका पाल ने कहा कि सिद्दार्थनगर जनपद देश की अग्रणी जनपद में शामिल हो इसके लिये आप सभी के आशीर्वाद और सहयोग से लगातार प्रयास करता रहता हूँ कार्यकताओं का मान सम्मान बना रहे सदैव उनके काम आ सकूं ऐसा सदैव प्रयत्नशील रहता हूँ । जगदम्बिका पाल ने कहा कि खलीलाबाद से बलरामपुर नई रेल लाइन की स्वीकृति ने जनपद में नया इतिहास लिखा है ।

कार्यक्रम को सम्बोधित करते जिला प्रभारी अशोक सिंह ने कहा कि कार्यकर्ता आधारित भारतीय जनता पार्टी का संगठन गठबंधन के सपने को चकनाचूर करेगा मैं बधाई देना चाहता हूं सांसद जगदम्बिका पाल जी को की आपने जिले को विकास में जो एक नई पहचान भारत मे दिलाई वो काबिलेतारीफ है कार्यकर्ताओं का सम्मान जिस प्रकार से आप द्वारा किया जा रहा  इसकी जितनी सराहना की जाय कम है । 2019 में पुनः लोकसभा  में भाजपा डुमरियागंज से जीते आप सांसद हो ऐसा यहां पर उपस्थित हर कार्यकर्ता चाहता है ।

कार्यक्रम को लोकसभा संयोजक राजेन्द्र पांडेय, जिला महामंत्री दिलीप चतुर्वेदी ने भी सम्बोधित किया कार्यक्रम की अध्यक्षता मण्डल अध्यक्ष राजदेव चतुर्वेदी ने की संचालन मण्डल महामंत्री नागेंद्र पांडेय ने की कार्यक्रम में जितेंद्र भट्ट, दुर्गेश राय , तुलसीराम पांडेय, अमरनाथ पांडेय , अर्जुन यादव , सन्तोष कुशवाहा , रामबिहारी उपाध्याय हीरालाल पासवान , सर्वेश गौतम , राकेश शुक्ल , नन्दलाल चतुर्वेदि , विनोद यादव , शेषमणि चतुर्वेदी आदि मौजूद रहे ।

(18)

Leave a Reply


error: Content is protected !!