शासन सत्ता सवर्ण विरोधी, अधिकतर सीटें आरक्षित होने से मंशा साफ- श्याम नरायन चौबे

March 8, 2021 12:17 am0 commentsViews: 237
Share news

 

अजीत सिंह

सिद्धार्थनगर। त्रियस्तरीय पंचायत चुनाव में प्रधान, बीडीसी व जिला पंचायत सदस्य के साठ प्रतिशत से अधिक सीटों को आरक्षित कर दिया गया है जबकि 50 प्रतिशत ही आरक्षण का प्राविधान है। इससे साबित होता है कि प्रशासन और सत्ता दोनों सवर्ण विरोधी है और इन्हें सवर्णों की चिंता तनिक भी नहीं है। सवर्णो को उपेक्षित करने की मंशा साफ प्रतीत हो रही है। जबकि सवर्ण समाज हमेशा देेेशहित व सर्वसमाज हित में सदा कर्मशील रहता है।

 

उक्त बातें अखिल भारतीय ब्राम्हण महासभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पं. श्याम नारायण चौबे ने कही। वे महासभा के कार्यालय पर आयोजित बैठक को बतौर मुख्यातिथि संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि  जिले के हम सभी लोग ब्राह्मण हित चिंतक सवर्ण प्रत्याशियों को समर्थन देकर जिताने का पुरजोर प्रयास करे एवं सत्ता पक्ष के राजनैतिक प्रत्याशियों को सबक सिखाने का भी कार्य ब्राह्मण महासभा करेगी।

 

बैठक की अध्यक्षता जिलाध्यक्ष राम कृष्ण पांडे ने की और संरक्षक राधा रमण त्रिपाठी सहित कई वक्ताओं  ने संबोधित किया। सभी वक्ताओं ने एक स्वर से सवर्ण समाज के प्रत्याशीयों का समर्थन और राजनैतिक प्रत्यशियों को चुनाव में बुरी तरह से हराने के उदबोधन किया गया।

बैठक में मुख्य रूप से वरिष्ठ जिला उपाध्यक्ष सुधीर पांडेय, जिला उपाध्यक्ष शोहरतगढ़ अमरनाथ पांडेय, जिला संयोजक विनय पंडित, उपाध्यक्ष नौगढ़ इंद्रेश त्रिपाठी, कार्यकारिणी सदस्य दीपेंद्र पांडेय, निशांत शर्मा, राजेश मिश्रा, कृष्णा रस्तोगी, हिमांचल पांडेय, गोपाल, दीपेन्द्र पाण्डेय मिश्र, वीरेंद्र, विजय, कृष्ण पांडेय सहित सभी पदाधिकारियों ने एकजुट होकर सरकार के द्वारा सवर्णों के सम्मान में ब्राह्मण महासभा अपने प्रत्याशियों को जिताने के लिए पुरजोर प्रयास करें।

(139)

Leave a Reply


error: Content is protected !!