भय और भ्रष्टाचार मुक्त समाज चाहिए तो बसपा को वापस लाओ

December 23, 2016 2:35 pm0 commentsViews: 249
Share news

…इटवा विधानसभा क्षेत्र के महादेव घुरूहू चौराहे पर हुई जनसभा

एम.आरिफ

arshad

इटवा, सिद्धार्थनगर। इटवा विधानसभा क्षेत्र के महादेव घुरूहू चौराहे पर प्रदेश सरकार के भ्रष्टाचार, जंगलराज व केन्द्र सरकार की वादा खिलाफी को लेकर इटवा सीट के बसपा प्रत्याशी हाजी अरशद खूर्शीद की अध्यक्षता में एक जनसभा का अयोजन किया गया।

गुरूवार को हुई सभा को संबोधित करते हुए बतौर मुख्य आतिथि राममिलन भारती ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ बरसते हुए कहा कि नोट बंदी करके नरेंद्र मोदी ने 5 प्रतिशत लोगों के लाभ के लिए पुरे देश को लाइनों में खड़ा कर दिया है। देश की गरीब जनता अपना ही पैसा बैंक से निकालकर खर्च नहीं कर पा रही है। मोदी सरकार देश की जनता को धोखा देना चाह रही है।

उन्होंने ने कहा कि जब जब उत्तर प्रदेश में सपा की सरकार बनती है तब तब अपराधों की संख्या बढ़ जाती है। दिन दहाड़े चोरी, बलात्कार, लूट, हत्यायें हो रही है। खुद पुलिस भी सुरक्षित नहीं ह,ै तो आम जनता का क्या हाल होगा।

इसी क्रम में बसपा प्रत्याशी अरशद खुर्शीद ने सपा और भाजपा पर निशाना  साधते हुये कहा कि ये दोनों एक ही सिक्के के दो पहलू हैं। एक पूरे देश को तंग कर रही है, तो दूसरी प्रदेश को तंग कर रही है।

उन्होंने कहा की सपा राज्य में प्रदेश के अन्दर जंगल राज्य कायम हो गया है आमं आदमी की तो बात दूर अब पुलिस वाले भी नही सुरक्षित हैं महिलाओं की इज्जत दिन दहाड़े लूट ली जा रही है। दंगाइयों को बढ़ावा मिल रहा है। अपराधियों के हौसले बता रहे है कि प्रदेश में सरकार की व्यवस्था लुंज पुंज है। सही व्यवस्था चाहिए तो इस बार बसपा सरकार को प्रदेश में लाइए।

कार्यक्रम का संचालन कर रहे बसपा विधानसभा अध्यक्ष रामयज्ञ गौतम ने कहा की सपा सरकार में जिला स्तर से लेकर निम्न स्तर तक के अधिकारी भ्रष्टाचार मे लिप्त रहते हैं। जिससे जनता परेशान है। सपा सरकार में गुंडों का राज है। जिसमे हम सब सुरक्षित नहीं है।

इस दौरान, शेखर अजाद, लालचन्द निषाद, नजरे आलम, नवेद रिजवी, सफकत, ज्वाला प्रसाद राजभर, तिलक राम यादव, अखतर चौधरी, राधे श्याम,  अशलम खुर्शीद, राम अचल गौतम, भुल्लर प्रसाद, राम दास मौर्या, आस मोहम्मद, पिंगल प्रसाद,सादिज नेता मो. इकराम, बलराम मिश्रा, शाबान प्रधान, अरविन्द मिश्र, आदि लोग मौजूद रहे।

(1)

Leave a Reply


error: Content is protected !!