किचन मेें लैंप से जल कर मर गई तीन भाइयों की लाडली मनीषा

September 21, 2015 5:20 pm0 commentsViews: 119
Share news

संजीव श्रीवास्तव

images444सिद्धार्थनगर के उसका थानाक्षेत्र के ग्राम तिघरा में लैंप गिरने से जली 16 वर्षीया मनीषा को काफी कोशिशों के बावजूद बचाया नहीं जा सका। सोमवार की तड़के गोरखपुर के मेडिकल कालेज में मनीषा की सांसे टूट गयी। तीन भाईयों की अकेली लाडली बहन की मौत से तिघरा गांव में शोक की लहर है। लाडली की मौत से उसके मां-बाप बुरी तरह से टूट गये हैं।

घरवालों के मुताबिक रविवार की रात लाइट नहीं थी। मनीषा के साथ उसके मां बाप और तीन भाईयों ने छत पर भोजन किया। इसके बाद वह किचन साफ कर रही थी। इसी दौरान वहां रखा लैम्प उस पर गिर गया। आग से उसके कपड़े कपड़े जले ओर बुझाा न पाने की हालत में वह खुद भी जलने लगी। परिवार वालों की चीख-पुकार सुनकर गांव वालों ने किसी प्रकार मनीषा को आग से निकाला।

उसे इलाज के जिला अस्पताल पहंुचाया गया। जहां उसकी नाजुक स्थिति को देख चिकित्सकों ने उसे गोरखपुर रेफर कर दिया। गोरखपुर मेडिकल कालेज में सोमवार की सुबह लगभग 5 बजे मनीषा की मौत हो गयी। मनीषा के पिता चर्तुभुजी दूबे जय किसान इंटर कालेज सनई में शिक्षक हैं। मनीषा के अलावा उन्हें तीन पुत्र है। इकलौती बेटी होने के कारण वह सभी की दुलारी थी।

(1)

Leave a Reply


error: Content is protected !!