बैंक से पैसा नहीं मिला तो फिकर नॉट भाई, चालीस रुपये प्रति हजार की दर से पैसा निकाल सकते हैं

May 1, 2018 3:20 pm0 commentsViews: 573
Share news

निज़ाम अंसारी

शोहरतगढ़, सिद्धार्थनगर। ग्राहकों को बेहतर बैंकिंग सुविधा देने के लिये विभिन्न बैंको द्वारा ग्रामीण इलाको में ग्राहक सेवा केन्द्र बनाया गया। तांकि लोगो को बैंको में लाइन न लगाना पड़े साथ ही दौड़ भाग न करनी पड़े। लेकिन वर्तमान समय में ऐसे ही कई ग्राहक सेवा केन्द्रों पर पैसों की किल्लत बता कर खाताधारकों से जमकर वसूली की जा रही है।

याद रहे कि शादी व लगन का मौसम होने के कारण सबको पैसे की आवश्यकता है। वहीँ दूसरी ओर बैंकों में लगभग पिछले दो माह से आम जनता को कैश नहीं मिलने के कारण ग्राहक सेवा केंद्र , डिजिटल पेमेंट से जुड़े दुकानदारों कि चांदी हो गयी है शोहरतगढ़ क़स्बा में संचालित ग्राहक सेवा केंद्र व डिजिटल पेमेंट से सम्बंधित कई कंपनियों से जुड़े दूकानदारों ने बाकायदा अपना रेट लिस्ट लगा रखा है। कहीं पर एक हजार रुपये निकालने का एक्स्ट्रा चार्ज तीस रुपये प्रति हजार है तो कहीं चालीस रुपये प्रति हजार तक रेट है। आम नागरिक मजबूर है और अपने आप को ठगा सा महसूस कर रहा है वहीं कस्बे में लगा एटीएम खुलता ही नहीं है। बैंको में लाइन लगाने के बाद भी लोगो को प्रयाप्त पैसा नहीं मिल पा रहा है।

सूत्रों का कहना है कि  कुछ बैंक कर्मियों की मिली भगत से कस्बे के कई दुकानदार व कतिपय ग्राहक सेवा केन्द्र खाता धारको को प्राइवेट निकासी के नाम पर बैंक कर्मचारी  रुपया वसूली कर रहे है। क्षेत्र में इन दिनों पूरी तरह से लूट की खुली छूट मिली है। जनता में बैंको व सरकार के प्रति आक्रोश बढ़ता जा रहा है। व्यवस्था ऐसी कि बदलाव का रास्ता दिख नहीं रहा है अगर बदलाव होता है तो ऊपरी कमाई जाने का भी डर है |

बताते चलें कि नोट बंदी और डिजिटल लेनदेन के प्रति सरकार का जो नजरिया है ठीक उसके उलट हो रहा है आधार से पेमेंट करने वाले दुकानदारों को सही कमीसन या कमीसन इतना कम है कि दुकानदार खुल्लम खुल्ला जनता को लूटने का मूड बनाये हुवे हैं जिसे समय रहते प्रशासन ने नहीं रोका तो आने वाले समय में अराजकता फ़ैल सकती है |

 

(356)

Leave a Reply


error: Content is protected !!