बार और बेंच दोनों का हित वादकारी को न्याय दिलाना है़- विनय शंकर तिवारी

December 29, 2017 3:02 pm0 commentsViews: 192
Share news

अजीत सिंह

गोरखपुर : जिले की गोला बाजार तहसील प्रांगण में गुरुवार को समारोह आयोजित कर कलेक्ट्रेट बार एसोसिएशन के नवनिर्वाचित पदाधिकारियों को शपथ दिलायी गयी। इसमें बार-बेंच के सामंजस्य का मुद्दा छाया रहा। इसके के बाद अधिवक्ताओं को संबोधित करते हुए क्षेत्रीय विधायक व बसपा नेता विनय शंकर तिवारी ने कहा कि अधिवक्ता की काली कोट विरोध का प्रतीक है।

श्पथ ग्रहण के बाद उन्होंने कहा कि यह जनता को न्याय दिलाने के लिए बेंच का विरोध करता है लेकिन बार और बेंच का अंतिम उद्देश्य वादकारी को न्याय दिलाना होता है। अतएव  उद्देश्य की ऐक्य के कारण अंतत: दोनों में विरोध संभव नहीं है। कि वास्तव में सबसे पवित्र पेशा अधिवक्ता का है। जो अन्यायी को सजा और निर्दोष को मुक्ति दिलाता है।

अपने सम्बोधन में उपजिलाधिकारी गौरव श्रीवास्तव ने नवनिर्वाचित पदाधिकारियों को शुभकामना देते हुए आश्वस्त किया कि जल्दी ही तहसील के नायब तहसीलदार के न्यायालय पूरी तरह कार्य करना शुरू कर देंगे और अन्य कोर्ट सायंकाल तक चलाया जाएगा, जिससे लोगों को तेजी से न्याय मिल सके। तहसीलदार प्रेमचंद मौर्य ने भी बार-बेंच में सामंजस्य बनाए रखने के लिए पुरानी कार्यकारिणी को धन्यवाद व नई कार्यकारिणी को शुभकामना दिया।

कार्यक्रम को नवनिर्वाचित अध्यक्ष हरिनंदन मिश्र, मंत्री शंकरानंद शुक्ल, श्रीनिवास पांडेय, राजेश यादव, गिरिजेश शाही, सतीश कुमार उमर, मृत्युंजय तिवारी, बीरबहादुर चंद, भारद्वाज पांडेय, ओमप्रकाश ओझा, हरिवंशमणि शर्मा, हरिप्रसाद सिंह, रामदिनेश राय, शंभू नाथ मिश्र, रामनाथ, रंतिदेव मिश्र, सूर्यनारायण राय, शिवकुमार शुक्ल, इंदूभूषण ओझाने संबोधित किया। अध्यक्षता एल्डर कमेटी के अध्यक्ष हरिकेश यादव ने की व संचालन सुबास चंद्र दुबे ने किया।

इस अवसर पर पूर्व जिला पंचायत सदस्य मदनकिशोर तिवारी, शिवचंद यादव, प्रहलाद तिवारी, लल्लन तिवारी, भुवनेश्वर चतुर्वेदी, रामजी शुक्ल, हरिचंद्र पाठक, श्रीनिवास पांडेय, रमाशंकर भारती, रवींद्र दुबे, सुबास तिवारी आदि उपस्थित थे।

 

(84)

Leave a Reply


error: Content is protected !!