जिला प्रशासन कर रहा अवैध तरीके से रह रहे लोगों का डाटा तैयार, जरूरत पर विडियोंग्राफी भी होगी

March 19, 2020 2:06 pm0 commentsViews: 414
Share news

— तीन मुस्लिम देशों से आए हिन्दू, सिख, बौद्ध और पारसियों के पहचान के निर्दश

नजीर मलिक

सिद्धार्थनगर। जिले में अफगानिस्तान, पाकिस्तान, और बांग्लादेश से आए
अल्पसंख्यकों (हिन्दू, सिख, ईसाई, जैन, बौद्ध और पारसी) के पहचान के
निर्देश दिए गए है। राज्य के गृह विभाग ने इसे लेकर जिलाधिका‌री को
निर्देश दिए है। साथ ही अवैध रूप से रह रहे लोगों का डाटा तैयार करने की
बात भी कही गई है। बताया जाता है कि ऐसे लोगों की सूची राज्य सरकार गृह
मंत्रालय को भेजेगी। जिससे की नागरिकता संसोधन कानून के तहत उन्हें भारत
की नागरिकता दी जा सके।

नागरिकता संसोधन कानून को प्रदेश की योगी सरकार ने पूरे प्रदेश में लागू
कर दिया है। इसके बाद सरकार प्रदेश के सभी जिलों से अल्पसंख्यकों की सूची
मांगने के निर्देश दिए है। अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी ने प्रदेश भर के
सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिया है कि अफगानिस्तान, पाकिस्तान और
बांग्लादेश से आकर दशकों से रह रहे लोगों की पहचान करें। इसकी सूची तैयार
करें। बताया जाता है कि प्रदेश में पहली बार ऐसा होगा कि इस तरह की सूची
तैयार की जा रही है। नए कानून के तहत नागरिकता प्रदान की जाएगी। इसके
अलावा इन तीनों देशों से आए मुस्लिम आबादी की सूचना भी मांगी गई है।
बताया जाता है कि इसकी सूचना राज्य सरकार की तरफ से केंद्रीय गृह
मंत्रालय को भेजी जाएगी। सूत्रों के अनुसार इनकी पहचान के बाद इन्हें
उनके देश भी भेजा जाएगा। हालांकि अफगानिस्ता, पाकिस्तान और बांग्लादेश से
आए अल्पसंख्यकों की संख्या बेहद कम है। लेकिन यह बात जरूर सामने आई है कि
अवैध रूप से रहे रहे लोगों की संख्या जिले में है। जिस पर प्रशासन ने नजर
रखे हुए है। डीएम दीपक मीणा ने बताया कि अफगानिस्तान, पाकिस्तान और
बांग्लादेश के अल्पसंख्यकों की पहचान के निर्देश सभी एसडीएम को दिए गए
है। रिपोर्ट मिलने के बाद इसकी जानकारी शासन को भेजी जाएगी।

 

 

 

 

 

 

 

(357)

Leave a Reply


error: Content is protected !!