डीजल पेट्रोल के दाम में निरंतर बढ़त के खिलाफ कांग्रेस का धरना प्रदर्शन, पांच सूत्री ज्ञापन सौंपा

July 2, 2020 11:31 am0 commentsViews: 103
Share news

— पेट्रोल डीजल के मूल्यों में अभूतपूर्व बढ़ोतरी कर जबरन वसूली करने से बाज आए केंद्र सरकाऱ- डा. चंद्रेश

अजीत सिंह

सिद्धार्थनगर। प्रदेश कांग्रेस के आव्हान पर जिले के हर तहसील मुख्यालय पर कांग्रेसियों ने डीजल पेट्रोल के लगातार दामों के बढ़ोतरी के खिलाफ धरना प्रदर्शन किया। जिला मुख्यालय सदर तहसील पर पूर्व लोकसभा प्रत्याशी डॉक्टर चंद्रेश उपाध्याय की अगुवाई में जोरदार धरना प्रदर्शन कर 5 सूत्री मांगों का ज्ञापन उप जिलाधिकारी के माध्यम से राष्ट्रपति महोदय को सौंपा गया।

गत दिवस हुए कार्यक्रम  के दौरान कांग्रेस के वरिष्ठ नेता डॉक्टर चंद्रेश उपाध्याय ने कहा कि मोदी सरकार द्वारा प्रेट्रो पदार्थों के मूल्य में निरंतर की जा रही वृद्धि की ओट में जनता से की जा रही जबरन वसूली चिंतनीय व निंदनीय है।लॉकडाउन के बाद आज जब खेती किसानी का समय आ गया है, तब लगातार 2 पखवारे से डीजल पेट्रोल का दाम प्रतिदिन बढ़ाया जा रहा है।

 डा. चन्द्रेश ने कहा कि मध्यम वर्गीय जनता के साथ किसानों, मजदूरों को जहां सरकार को सुख सुविधा देनी चाहिए थी वहीं इसके उलट सरकार  उन सभी का उत्पीड़न करने पर तुली हुई है। सरकार ने डीजल और पेट्रोल को अपनी कमाई का जरिया बना लिया है।

 डॉ उपाध्याय ने आगे कहा 2014 में जब भाजपा की सरकार बनी थी तब पेट्रोल का उत्पादक शुल्क 9 रूपया 20 पैसे प्रति लीटर एवं डीजल का ₹3 46 पैसा और लीटर था पिछले 6 सालों में केंद्र की भाजपा सरकार ने पेट्रोल पर उत्पाद शुल्क में 23.8 अत्तर रुपए प्रति लीटर एवं डीजल पर 2837 प्रतिशत प्रति लीटर उत्पाद शुल्क में दो सौ 58% की वृद्धि कर दी,केवल पेट्रोल एवं डीजल पर लगने वाले उत्पाद शुल्क में बार बार वृद्धि करके मोदी सरकार ने पिछले 6 सालों में18,00,000, करोड़ रुपए जमा कर लिए। तीन माह पहले लाक डाउन लगाए जाने के बाद पेट्रोल व डीजल पर उत्पाद शुल्क को बार-बार बढ़ाकर मुनाफाखोरी और जबरन वसूली की सारी हदें पार कर दी गई।

 उन्होंने एंव अन्य वक्ताओं ने कहा कि पिछले कुछ महीनों में अच्छे के तेल के दाम अंतरराष्ट्रीय बाजार में काफी कम हुए हैं, लेकिन केंद्र की मोदी सरकार तेल और पेट्रोल के दाम बढ़ाकर कमाई का सारा भार मध्य वर्गीय परिवार, एवं गरीब किसानों पर थोप दिया है और उसी पर आश्रित हो गई है। ज्ञापन देने वालों में प्रमुख रूप से मुख्य वक्ता के रूप में देवेंद्र कुमार गुड्डू, कैलाश पंछी,  सादिक अहमद, गुल मोहम्मद, रंजना मिश्रा, साबिर अली, सुदामा प्रसाद, त्रियुगीप्रसाद शर्मा, इसाक अली मंसूरी, मनौववर हुसैन, धीरज गुप्ता, होरी लाल श्रीवास्तव, श्याम बिहारी, धर्मेंद्र गौतम सूरज मिश्रा इनामुर रहमान सूरज राय, सलमान सोनू आज की उपस्थिति रही। कार्यक्रम का संचालन कांग्रेस नेता अनिल सिंह अन्नू ने किया।

(75)

Leave a Reply


error: Content is protected !!