डीजल पेट्रोल की मंहगाई के खिलाफ कांग्रेस का राष्ट्रपति को ज्ञापन

July 5, 2020 3:07 pm0 commentsViews: 90

http://Congress-ka-dharna-shoCongress-ka-dharna-sho

निज़ाम अंसारी

शोहरतगढ़, सिद्धार्थनगर। जिला कांग्रेस कमेटी सिद्धार्थनगर की शोहरतगढ़ ब्लॉक इकाई के कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने ब्लॉक प्रभारी दीपक यदुवंशी के नेतृत्व में डीजल पेट्रोल के मूल्यों में अभूतपूर्व बढ़ोतरी के विरोध में राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन वरिष्ठ लिपिक बाल कृष्ण को सौंपा।

 ब्लॉक प्रभारी दीपक यदुवंशी ने कहा कि लॉकडाउन कि पिछले 3 माह के दौरान डीजल व पेट्रोल पर लगने वाले केंद्रीय उत्पाद शुल्क व कीमतों में बार-बार की गई अनुचित बढ़ोतरी ने भारत के नागरिकों को असीम पीड़ा व परेशानियों दी हैं। एक तरफ तेज स्वास्थ्य व आर्थिक महामारी से लड़ रहा है वहीं दूसरी ओर मोदी सरकार पेट्रोल और डीजल की कीमतों और उस पर लगने वाले उत्पाद शुल्क को बार-बार बढ़ाकर इस मुश्किल वक्त में मुनाफाखोरी कर रही है।

 पिछले साढे 3 महीनों में भाजपा सरकार ने डीजल पर मूल्य और उत्पाद शुल्क शुल्क 24.48 रुपए प्रति लीटर पेट्रोल पर 21.50 रुपये प्रति लीटर बढ़ा दिया। उन्होंने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि बाईट 24 जून को कच्चे तेल का अंतरराष्ट्रीय भाव 43.41 अमेरिकी डालर प्रति बैरल था। जो डॉलर रुपए भाव के अनुसार 3288 .71 रुपये प्रति बैरल बनता है। एक बैरल में 159 लीटर होते हैं। इसलिए 24 जून 2020 को कच्चे तेल का प्रति लीटर भाव 20.68 रुपये बनता है। इसके विपरीत पेट्रोल डीजल के मूल्य आसमान छू कर 80 रुपये प्रति लीटर पहुंच गया है।

इससे साबित होता है कि मोदी सरकार भारत के भोले भाले नागरिकों की जेब पर डाका डालकर उनका लूट खसोट कर रही है।कार्यकर्ताओं ने डीजल व पेट्रोल के बढ़े हुए दामों को तत्काल वापस लिए जाने संबंधी राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन बीडीओ के गैर मौजूदगी में वरिष्ठ लिपिक बाल कृष्ण को सौंपा।इस दौरान कपिल, लालजी, जटाशंकर, गोल्ले, अनूप, रामअशीष, राकेश, नरेश, पन्नालाल, मुकेश, सुरेश, ज्ञानदास, विनोद आदि लोग मौजूद रहे।

(80)

Leave a Reply