पहले दहेज के लिए बेटी को मार डाला, अब सुलह के लिए बाप की जान के पीछे पड़े?

October 25, 2020 11:42 am0 commentsViews: 234
Share news

शिव श्रीवास्तव

महाराजगंज, यूपी।जिले के घुघली थाना क्षेत्र के बहुचर्चित ‘सिंधु दहेज हत्याकांड’ की कहानी अभी खत्म नहीं हुई है। दहेज लोभियों ने पहले बेटी को यंत्रणाएं देकर मार डाला और अब फरार अभियुक्त दहेज हत्या प्रकरण में सुलह करने के लिए एक पीड़ित और मजबूर बाप को हत्या  की धमकी दे रहे हैं।

खबर के मुताबिक घुघली थाने के  धनगढ़ी निवासी गोविंद कसौधन ने अपनी २१ साल की बेटी सिंघु कसौधन की शादी इसी जिले के निचलौल थाने के खौंहौली निवासी सोनू कसौधन के साथ की थी। आरोप के मुताबिक शादी के बाद से ही ससुराल वाले दहेज के लिए सिंधु का उत्पीड़न करने , जिसकी सूचना सिंधु ने अपने पिता गविंद कसौधन को फोन पर।पिता गविंद नेसिंधु के ससुरालियों को समझाया भी, मगर बेटीसिंधु का उत्पीड़न बंद नहीं हुआ।

सिंधु के पिता गविंद का आरोप है तीन साल तक मेरी फूल से प्यारी बटिया को ससुरालियों के अने जुल्म सहने पड़े। कई बार उसे पीटा जाता और कई कई दिन खाना नहीं दिया जाता। अन्ततः शादी के तीन साल बाद 28 अगस्त को ससुराल वालों ने मेरी बेटी की सिंधु की बेरहमी से पिटाई कर हत्या कर दी।

इस घटना की रिपोर्ट दर्ज हुई, सिंधु के पति सोनू कसौधन, देवर विजय, अजय, संजय तथा  इरावती  देवी को हत्या का जिम्मेदार मानते हुए अभियुक्त बनाया गया। जिसमें पति सोनू पकड़ा गया। बाकी सभी अभियुक्त आजादी से घूम रहे हैं। आरोप है कि यही तथा कथित फरार मुलजिम अब सिंधु के पिता गोबिंद को मार डालने की धमकी दे रहे हैं।

पिता का आरोप है कि यही लोगअब केस वापस लेने की धमकी दे रहे हैं तथा केस वापस न लेने की सूरत में जान से मारने की धमकी भी दे रहे हैं। इस धमकी से घबराकर सिंधु के पिता ने  अनेक बार अधिकारियों के दफ्तर के चक्कर काटे, परंतु सिर्फ आश्वासन मिलता है और कार्रवाई नहीं होती है।

उन्होंने बताया कि उनको सिंधु के ससुराल पक्ष से डर लग रहा है कि कहीं उनके साथ भी कोई अप्रिय घटना न घट जाए। साथ ही यह भी कहा कि अगर महाराजगंज जिले में कार्रवाई नहीं हुई तो इस सूरत में पुलिस विभाग के आला अधिकारी से मिलेंगे और उनको घटना की सारी जानकारी देंगे।

(224)

Leave a Reply


error: Content is protected !!