सिद्धार्थ विश्वविद्यालय में शिक्षा के साथ व्यवसायिक दक्षता और कौशल पर बल दिया जाएगा

September 2, 2022 1:09 pm0 commentsViews: 123
Share news

नजीर मलिक

 

 

सिद्धार्थनगर। उत्तर प्रदेश इलेक्ट्रॉनिक्स और इनफॉरमेशन टेक्नोलॉजी विभाग के अंशुल शर्मा ने बुधवार को सिद्धार्थ विश्वविद्यालय के बीबीए विभाग में स्थापित इनक्यूबेशन सेंटर के निरीक्षण के दौरान संभावनाओं पर चर्चा की तथा छात्रों को शिक्षा के साथ रोजगार व व्यापार के क्षेत्र में भी दक्ष एवं कुशल बनाने पर जोर दिया।

निरीक्षण के दौराना अंशुल शर्मा ने कहा कि ऐसे सेंटर के माध्यम से छात्रों को रोजगार की ओर कदम बढ़ाने में मदद मिलेगी। उन्होंने वर्किंग स्पेस, मीटिंग हॉल, कॉन्फ्रेंस हॉल, कैफेटेरिया, बैंक, सर्वर रूम, प्रस्तुतीकरण कक्ष, लाइब्रेरी निरीक्षण के दौरान सुधार के सुझाव दिए। कुलपति प्रो. हरिबहादुर श्रीवास्तव एवं कुल सचिव से सिद्धार्थ इनक्यूबेशन फाउंडेशन को आगे बढ़ाने पर चर्चा की गई।

फाउंडेशन के कोऑर्डिनेटर डॉ. अखिलेश दीक्षित ने बताया कि सेंटर के माध्यम से विद्यार्थियों को पढ़ाई के साथ-साथ विविध प्रकार के व्यवसाय और रोजगार के अवसर उपलब्ध होंगे। साथ ही विश्वविद्यालय के क्षेत्र के व्यवसाय भी इस सेंटर के माध्यम से व्यवसाय को और बेहतर कर सकते हैं। विशेष रुप से प्रबंधन के विद्यार्थियों के लिए यह सेंटर बहुत उपयोगी है।

डिप्टी को-ऑर्डिनेटर डॉ. विमल चंद्र वर्मा ने कहा सिद्धार्थ विश्वविद्यालय ग्रामीण क्षेत्र में स्थापित है, लेकिन बड़े शहरों में व्यावसायिक शिक्षण संस्थानों की तर्ज पर यहां के भी छात्र दक्ष होंगे। प्रशिक्षण कराने के बाद व्यावसायिक प्रतिष्ठानों से अनुबंध कर रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने का प्रयास किया जाएगा। विद्यार्थियों में नई सोच को नवाचार के माध्यम से उनका स्टार्टअप करके उन्हें आप निर्भर बनाने में सेंटर विशेष भूमिका निभाएगा। यह जानकारी विवि के जनसंपर्क अधिकारी डॉ. अविनाश प्रताप सिंह ने दी।

 

 

(104)

Leave a Reply


error: Content is protected !!