थानाध्यक्ष डिड़ई के कहर से दुखी विधायक व प्रधान संघ डीएम एसपी से मिले, जांच के आदेश

April 3, 2022 12:47 PM0 commentsViews: 1074
Share news

थानाध्यक्ष अभिमन्यु सिंह द्धारा परीक्षा में ड्यूटी कर रहे अध्यापक व महिला दलित प्रधान से  दुर्व्यवहार, एसपी ने सीओ को जांच लिखा

 

नजीर मलिक

सिद्धार्थनगर। मिठवल विकास खंड क्षेत्र के चौधरी राम मिलन सिंह स्मारक इंटर कॉलेज घुमची पर 24 मार्च को परीक्षा डियूटी प्रथम पाली रिलीवर के रुप में तैनात सहायक अध्यापक विजय बहादुर सिंह के साथ शिवनगर डिड़ई के थानाध्यक्ष अभिमन्यु सिंह के द्वारा जांच के नाम पर दुर्व्यवहार करने का मामला तूल पकड़ लिया है। मामले को गंभीरता से लेते हुए क्षेत्रीय शिक्षक विधायक ध्रुव त्रिपाठी बुधवार को जिलाधिकारी दीपक मीणा से मिलकर विवेचक बदलावाकर निष्पक्ष जाँच की मांग करते हुए  संबंधित के खिलाफ कार्रवाई की मांग किया।    
पीड़ित शिक्षक ने बताया कि  परीक्षा चल रही थी। उस दौरान स्टेटिक मजिस्ट्रेट राम प्रताप शुक्ल, सेक्टर मजिस्ट्रेट खंड शिक्षा अधिकारी कमला प्रसाद व शिक्षक अभय सिंह मौजूद थे। थानाध्यक्ष अभिमन्यु सिंह पुलिस कर्मियों के साथ विद्यालय परिसर में बिना अनुमति के घुसे। कक्ष निरीक्षकों की तलाशी लेने लगे। मुझसे पूछने लगे कि आप यहाँ कैसे खड़े है। हम बताए कि परीक्षा डियूटी कर रहे हैं। और रिलीवर डियूटी पर हूं। उसके बाद थानाध्यक्ष अभिमन्यु सिंह हमको अशोभनीय भाषा का प्रयोग कर गाली गुप्ता दिए। फर्जी मुकदमें फंसाने की धमकी भी दिए। जिससे हम आहत होकर तत्काल बिहोश होकर गिर गए। इस संबंध में शिक्षक विधायक ने बताया कि शिक्षक साथ थानाध्यक्ष ने जो   दुर्व्यवहार किया गलत है।  जिलाधिकारी मामले की निष्पक्ष जाँच कराने का आश्वासन दिए है।

दलित व विकलांग प्रधानपति के उत्पीड़न पर एसपी से मिला अभाप्रसं प्रतिनिधि मंडल

 अखिल भारतीय प्रधान संगठन जिला इकाई जिलाध्यक्ष चंद्रमणि यादव की अगुवाई में प्रतिनिधि मंडल मंगलवार को पुलिस अधीक्षक यशवीर सिंह से मिला और एक ज्ञापन सौपते हुए आरोप लगाया कि  मिठवल विकास खंड के सांडीकला के अनुसूचित जाति की पीड़ित ग्राम प्रधान अनीता देवी पत्नी श्रवण कुमार विकलांग व्यक्ति के साथ थानाध्यक्ष शिवनगर डिडई अभिमन्यु सिंह ने दुर्व्यवहार एवं जाति सूचक शब्दों का प्रयोगकिया है। घटना से आहत संगठन के प्रतिमंडल ने मामले की जांच कर कार्यवाही की मांग किया।

जिलाध्यक्ष चंद्रमणि यादव ने पुलिस अधीक्षक के मौजूदगी में पीड़िता के पति श्रवण कुमार ने बताया कि 25 मार्च 2022 को विपक्षी चेतन, गुरुदीन एवं विजय कुमार के परिवार वाले हमारे घर पर पहुँच कर हमारे बच्चों को मारेपीटे। इस दौरान बेटी अनीसा गंभीर चोट लगने से बेहोश हो गई। हालत गंभीर देख हम बेटी की इलाज कराने चले गए। दूसरे दिन जब थानाध्यक्ष अभिमन्यु सिंह को न्याय पाने के लिए शिकायत पत्र दिया तो विपक्षी के दबाव में उल्टे हमको हमारी पत्नी को धमकाने लगे। और जाति सूचक शब्दों का प्रयोग करके गाली गलौज देने लगे। पुलिस अधीक्षक ने मामले को गंभीरता से लेते हुए। सीओ बांसी को मामले की जांच सौंप कर दोषियों के खिलाफ कठोर कार्यवाही करने का आश्वाशन दिया है। प्रतिनिधि मंडल में अखिल भारतीय प्रधान संगठन के जिला उपाध्यक्ष राजेश पासवान, जिला प्रवक्ता विजय यादव, ब्लाक अध्यक्ष नौगढ़ राम नरेश यादव आदि मौजूद रहे।

 

 

Leave a Reply