भारतभारी के एतिहासिक मेले का विधि विधान से उदघाटन दस दिन चलेगा सांस्कृतिक उत्सव

November 3, 2017 1:22 pm0 commentsViews: 410
Share news

––– सिद्धार्थनगर जनपद का ऐतिहासिक स्थल है भारतभारी–विधायक राघवेन्द्र सिंह

––– हमारे मंदिर, हमारी संस्कृति देश का आत्मा व प्राण वायु है– राजा योगेन्द्र प्रताप

अजीत सिंह

सिद्धार्थनगर। डुमरियागंज तहसील क्षेत्र के ऐतिहासिक एवं पौराणिक स्थल भारतभारी में लगने वाले 10 दिवसीय भव्य मेले का गुरूवार को विधिवत तरीके से उदघाटन किया गया। प्रशासन की देखरेख में लगने वाले इस मेले का उदघाटन बतौर मुख्य अतिथि विधायक राघवेन्द्र प्रताप सिंह व विशिष्ट अतिथि राजा योगेन्द्र प्रताप सिंह ने किया। उदघाटन के बाद अतिथियों ने शिवमंदिर में जाकर पूजा अर्चना की। जिसके बाद शिव मंदिर के पूर्व पुजारी आरके परदेसी बाबा की समाधि स्थल पर पुष्प अर्पित किया।

उदघाटन समारोह को सम्बोधित करते हुए विधायक राघवेन्द्र प्रताप सिंह ने कहा कि भारतभारी सिद्धार्थनगर जनपद का एक ऐतिहासिक स्थल है। भारतभारी का पौराणिक महत्व प्रदेश् में ही नही बल्कि पूरे देश मेंहै। भारतभारी भगवान भरत के नाम से जाना जाता है। लोगों को भरत के चरित्र से सीख लेनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि उन्हें गर्व है कि भारतभारी के पवित्र स्थल पर व मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए हैं। उन्होंने कहा कि भारतभारी मेले की बाग डोर प्रशासनिक हाथों में होने से निश्चित तौर पर गुणात्मक सुधार हुआ है।

विशिष्ट अतिथि के रूप में मां वटवासिनी गालापुर मंदिर के सर्वराकार राजा योगेन्द्र प्रताप सिंह ने सम्बोधित करते हुए कहा कि भारतभारी मेले का ऐतिहासिक व पौराणिक महत्व है। उन्होंने कहा कि मेले हिंदु समाज और हिंदू संस्कृति का अहम हिस्सा हैं। इससे समाज की जीवंतता बरकरार रहती है।

उन्होंने कहा कि वर्तमान में हिंदू संस्कुति और धरोहरों को यहेजे जाने की परम आवश्कता है। हमारे मंदिर और हमारी संस्कृति भारत की आत्मा और प्राणवायु है।  उन्होंने हिंदू समाज से अपील किया कि वे अपने आसपास के पुराने मंदिरों कस जीर्णद्र करने के लिए आगे आये। राजा साहब ने उपस्थित सभी श्रद्धालुओं को धन्यवाद भी दिया।

अस मौके पर सीओ सुनील कुमार सिंह नेकहा कि प्रषासन भारतभारी मंे लगने वाले मेले को लेकर पूरी तरह से गम्भीर है। हर तरफ चैकसी बरती जायेगीं उन्होंने कहा कि मेले मे सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये गये हैं। साथ ही सादी वर्दी में भी महिला व पुरूष सुरक्षाकर्मी तैनात किये गये हैं।

समारोह के दौरान मेला व्यवस्थापक रमेशचन्द्र श्रीवास्तव, कुंवर धनुर्धर प्रताप सिंह, अशर्फी लाल, प्रधान पति भारतभारी गुड्डू पाण्डेय, प्रधानसंघ अध्यक्ष संतोष सैनी, राहुल सिंह, लवकुश ओझा, श्यामसुन्दर अग्रहरि, पंकज पांडेय, कमलेन्द्र त्रिपाठी, अजय दूबे, सुभाष गुप्ता, भोलानाथ सिंह, जिपंस अजय सिंह, हीरा सिंह, कुलदीप पांडेय, चन्द्रभान अग्रहरि, महेश्वर शुक्ला, रामबिलास कन्नौजिया आदि रहे। समारोह का संचालन रमेशचन्द्र श्रीवास्तव ने किया।

मेले में प्रशासन करेगा इंतजाम

भारतभारी मेले के दौरान प्रशासन ने स्वास्थ्यए बिजली, पानी, शौचालय का अस्थाई इंतजाम कराया है। साथ ही तीर्थ सागर में स्नान के दौरान किसी भी घटना से बचने के लिए नांव व गोताखोरों की भी व्यवस्था की गई है।

सीसीटीवी कैमरे से होगी मेले की निगहवानी

मेले के दौरान विभिन्न जगहों पर सीसीटीवी कैमरे लगाये गये हैं। जिसके द्वारा प्रशासन द्वारा बनाई गई मेला कन्ट्रोल रूम से निगहवानी की जायेगी। इंस्पेक्टर डुमरियागंज आरबी सिंह व मेला प्रभारी अधरचन्द यादव ने बताया कि महिलाओं की सुरक्षा को लेकर पुलिस प्रशासन खास तौर पर मुस्तैद रहेगा। किसी भी प्रकार की समस्या होने पर तत्काल कन्ट्रोल रूम पर सूचना

दे।

 

 

(8)

Leave a Reply


error: Content is protected !!