कब्र से निकाल कर हजरत की लाश पोस्ट मार्टम को भेजी गई, हत्या का शक

October 12, 2015 8:21 AM0 commentsViews: 292
Share news

नजीर मलिक

फाइल फोटो

फाइल फोटो

खेसरहा थाने के ग्राम देउरी निवासी हजरत की लाश एक महीने बाद कब्र से निकाल कर पोस्ट मार्टम के लिए भेज दी गई। हजरत के बाप मोहर अली को शक है कि उसके बेटे की हत्या की गई है।

रविवार को बांसी तहसील प्रशासन और खेसरहा पुलिस के सामने कब्र की खुदाई शुरू हुई। घंटों मशक्कत के बाद लाश निकाली गई।

लाश पूरी तरह खराब हो चुकी थी। सिर्फ हडिृडयों का ढांचा ही बचा था। जिसे सील बंद कर पोस्ट मार्टम को भेज दिया गया।

पचीस साल के हजरत की मौत पिछले दो अगस्त को हुई थी। वह मिश्रौलिया थाने के राजडीह गांव गया था, जहां उसकी ससुराल थी। वापसी में उसकी लाश सुबह आठ बजे इटवा-बांसी रोड पर जिगनिहवा पुलिया के पास पाई गई थी। उसके सर पर चोट का निशान था।

हजरत की मौत की सूचना पर घरवालों ने उसे दफन कर दिया, लेकिन फिर उन्हें आशंका हुई कि उसे गोली मारी गई है। इस पर उसने भाग दौड़ शुरू की। घरवालों के मुताबिक उसके सर पर सिर्फ एक जख्म का निशान था। जो गोली का था।

सिद्धार्थनगर से लेकर राजधानी में डीजीपी तक कई फरियादें करने के बाद आखिर में जिलाधिकारी डा. सुरेंन्द्र कुमार ने लाश को निकाल कर पीएम कराने का आदेश दिया। यह मामला पूरे इलाके में चर्चा का विषय बना हुआ है।

Leave a Reply