ज़िले के कुछ युवा समाजसेवियो ने रात को कम्बल बांट कर किया नए वर्ष 2022 का स्वागत

January 1, 2022 6:18 pm0 commentsViews: 123
Share news

लगातार 8 वर्षों से 31 दिसम्बर की रात्रि ज़िले के युवाओं द्वारा किया जाता है जरुरतमंदो को कम्बल वितरण

अजीत सिंह

सिद्धार्थनगर। प्रत्येक वर्ष की भाति इस वर्ष भी सामाजिक संस्था “जनता का राज” के युवाओं द्वारा 31 दिसंबर को रात 7 बजे से एक जनवरी को सुबह 6 बजे तक लगभग 250 किलो मीटर के रेंज में आने वाले रेलवे स्टेशनों और चौराहों पर जरूरत मंद व्यक्तियों को कम्बल‌ वितरित किया गया। युवाओं के इस साहसिक कदम का जिला मुख्यालय के बुद्धिजीवियों में काफी चर्चा रहा। लोगों का कहना है कि जहाँ इस जमाने में अधिकांश लोग थर्टी फर्स्ट को डीजे मदिरा और मांशाहारी भोजन का आनंद उठाते हैं वहीं इन युवाओं द्वारा गरीबों के बीच जाकर कम्बल वितरण करना समाज को सराहनीय योगदान देना है।

“जनता का राज” संस्था के अगुवा और आरटीआई कार्यकर्ता देवेश मणि त्रिपाठी और समाजसेवी अरुण त्रिपाठी ने बताया कि रात्रि 7:00 बजे नौगढ़ से निकलकर बृजमनगंज रेलवे स्टेशन व मार्केट से होते हुये उस्का स्टेशन व मार्केट फिर नौगढ़ स्टेशन, बस स्टैंड, श्री सिहेश्वरी देवी मन्दिर, मार्केट व जिला अस्पताल, चिल्हिया स्टेशन व मार्केट, शोहरतगढ़‌ स्टेशन व मार्केट‌, परसा स्टेशन व मार्केट, बढ़नी स्टेशन व मार्केट, इटवा मार्केट, बांसी बस स्टैण्ट व मार्केट से होते हुये पुनः नौगढ़ तक कम्बल वितरण किया गया।

उन्होंने बताया कि चिल्हिया रेलवे स्टेशन पर एक 25 वर्ष का युवा बिना चद्दर के ठण्ड में कापते व सोने की कोशिश करते हुये मिला जो मुम्बई जाना चाह रहा था लेकिन उसको ये नही पता था कि चिल्हिया रेलवे स्टेशन से बहुत मुश्किल है मुम्बई के लिए ट्रेन मिल पाना। फिलहाल उसके पास चद्दर ना होने का कारण पूछा गया तो अपनी मजबूरिया बताने लगा। मुख्य कारण आर्थिक मजबूरी के कारण मुम्बई जाना बताया। वर्तमान समय में उसको कम्बल की सख़्त जरुरत थी जो उसे चिल्हिया रेलवे स्टेशन अधीक्षक राम आशीष शर्मा के हाथों से भेट किया गया।

युवाओं की अपील

दोनों युवाओं ने आम जन मानस से विशेष अपील कियL9909 घरों से जब भी निकले तो कम्बल अथवा चद्दर जरुर रखे जिससे इस कढ़ाके की ठण्ड में मजबूरियों का सामना करने की नौबत ना आये।

संस्था डायरेक्टर अरुण कुमार त्रिपाठी ने बताया गया कि ज्यादे खुसी इस बात से मिली कि अन्य वर्षों की अपेक्षा इस वर्ष भी रात्रि में खुले में निवास कर रहे गरीब, मजबूर व असहाय लोगों की संख्या में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है। कम्बल सिर्फ उन्हीं तक पहुँचाना था जो सही मायने में उसके हकदार व पात्र हो।

इस कार्यक्रम को सम्पन्न कराने में प्रमुख भूमिका संस्था अध्यक्ष देवेश मणि त्रिपाठी, समाजसेवी व उदघोषक नितेश पाण्डेय, समाजसेवी अंशुमान त्रिपाठी व संस्था के अभिन्न अंग अजीत कुमार शुक्ला की उपस्थिति रही। समाजसेवी व उदघोषक नितेश पाण्डेय ने इस कार्यक्रम को सफलतापूर्वक सम्पन्न कराने के लिए सभी का धन्यवाद ज्ञापित किया।

(113)

Leave a Reply


error: Content is protected !!