धर्म रक्षा मंच के तत्वाधान में राम राम दंगल का हुआ आयोजन, कई राज्यों के पहलवानों ने कुश्ती में दिखाया दांव का जादू

February 8, 2024 9:58 PM0 commentsViews: 292
Share news

मौनी अमावस्या के अवसर पर राप्ती नदी तट पर लगने वाले मेले में कार्यक्रम का हुआ आयोजन

पूर्व विधायक राघवेन्द्र प्रताप सिंह ने दीप प्रज्वलित व फीता काटकर किया

अजीत सिंह 

दंगल प्रारम्भ करते जिलाधिकारी पवन अग्रवाल, पूर्व विधायक राघवेंद्र प्रताप सिंह

सिद्धार्थनगर। बुधवार को राप्ती नदी तट स्थित परशुराम वाटिका में मौनी अमावस्या के शुभ अवसर पर लगने वाले मेले में कुश्ती दंगल धर्म रक्षा मंच के तत्वाधान में दो दिवसीय राम राम कुश्ती दंगल आयोजन किया गया। आयोजन में कई प्रदेशों से आए पहलवानों ने कुश्ती के दांव-पेंच दिखाए। दंगल देखने हजारों लोगों की भीड़ जुटी रही। कार्यक्रम का आरम्भ पूर्व विधायक राघवेन्द्र प्रताप सिंह ने विधि विधान से पूजन के उपरांत फीता काटकर किया।

दंगल में नेपाल, राजस्थान, पंजाब, दिल्ली, अयोध्या, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, बिहार, मध्य प्रदेश सहित कई राज्यों के पहलवान सम्मालित हुए और इन्होंने कुश्ती के नये-नये दांव पेंच दिखाये। पूर्व विधायक राघवेन्द्र प्रताप सिंह ने गौरव पहलवान सहारनपुर और भूरा पहलवान हरियाणा का हाथ मिलवाकर कुश्ती का शुभांरभ किया। इस दौरान पहलवानों द्वारा उनको पगड़ी व माला पहनाकर सम्मानित किया।

पहली कुश्ती में गौरव पहलवान सहारनपुर ने भूरा पहलवान हरियाणा टांगदाऊ दांव मारकर धूल चाट दिया। दंगल में विनोद पहलवान गाजीपुर ने राजेश टाइगर बिहार को चित कर दिया, मुकेश गोरखपुर व शाहरुख सहारनपुर में शाहरुख सहारनपुर ने विजई हुआ। वीर थापा काठमांडू नेपाल ने सोनी पहलवान चंडीगढ़ को चित कर दिया। दही चूड़ा वाले बाबा पहलवान अयोध्या ने काला चीता राजस्थान को पटखनी देकर विजई हुए, चांद बौना पहलवान सहारनपुर व ऋतिक पहलवान डुमरियागंज के बीच चांद बौना पहलवान विजई हुए, रामकिशन बाबा अयोध्या और शेरा पहलवान बरेली के रामकिशन बाबा अयोध्या विजई हुए।

महिलाओं में रोशनी पहलवान प्रयागराज व शिवांगी नंदनीनगर गोण्डा में शिवांगी विजई हुई, नम्रता पहलवान उत्तराखंड और संतोषी पहलवान कानपुर के नम्रता पहलवान विजई हुई। दंगल में रेफरी की भूमिका मंगला पहलवान व संचालन की भूमिका हनुमान जायसवाल, केहर सिंह व भारत सिंह ने संयुक्त रूप से निभाई।

पूर्व विधायक राघवेन्द्र प्रताप सिंह ने बताया कि भारतीय खेलों में दंगल महत्वपूर्ण खेल है। कुश्ती करने से युवा शारीरिक एवं मानसिक रूप से स्वस्थ रहता है, कुश्ती दंगल प्रतियोगिता का आयोजन युवाओं व विद्यार्थियों में खेल के प्रति जागरूकता बढ़ाने हेतु आवश्यक हैं। उन्होंने बताया कि मौनी अमावस्या के पर्व पर लगने वाले मेले में हमेशा दंगल का आयोजन होता था, बीच के कोरोना व अन्य कारणों से दंगल का आयोजन नही हो पाया था। लेकिन अब इस परंपरा को जीवित रखने और युवाओं को मंच देने के लिए मैं हर वर्ष यह राम राम दंगल का कार्यक्रम करवाता रहूंगा।

कार्यक्रम में जिलाधिकारी पवन अग्रवाल, भाजपा जिलाध्यक्ष कन्हैया पासवान, बृज बिहारी मिश्रा, पप्पू श्रीवास्तव, मधुसूदन अग्रहरि, लालजी बाबा, अनिल सिंह, दिलीप उर्फ छोटे पाण्डेय, पप्पू श्रीवास्तव, उपजिलाधिकारी प्रवेन्द्र कुमार, पुलिस क्षेत्राधिकारी सुजीत राय, इंस्पेक्टर मुकेश राय, चंदन कुमार आदि ने पहलवानों का हाथ मिलाकर कुश्ती आरंभ करवाया और विजई पहलवानों को पुरस्कार प्रदान कर प्रोत्साहित किया। इस दौरान कार्यक्रम के संयोजक तिलक साहू, चन्द्र प्रकाश चौधरी, धर्मराज वर्मा, डॉ दशरथ चौधरी, शैलेश सिंह, शत्रुहन सोनी, हरीश पाण्डेय, मक्कू शाही, सुगंध अग्रहरि आदि सहित भारी संख्या में लोग उपस्थित रहें।

Leave a Reply