जिलाधिकारी दीपक मीणा का विदाई समारोह संपन्न, मायूस दिल से लोगों ने दी शुभकनाएं

April 15, 2022 10:53 pm0 commentsViews: 703
Share news

अजीत सिंह

डीएम दीपक मीणा को साफा और साल भेंट करते हुए एसपी डा. यशवीर सिंह व सीडिओ पुलकित गर्ग

सिद्धार्थनगर। निवर्तमान जिलाधिकारी दीपक मीणा का विदाई समारोह पुलिस अधीक्षक डा. यशवीर सिंह, मुख्य विकास अधिकारी पुलकित गर्ग की उपस्थिति में आज कलेक्ट्रेट सभागार में सम्पन्न हुआ। विदाई समरोह में उपस्थित अधिकारी कर्मचारी व मीडिया कर्मियों के दिल मायूस दिखे। इनके अलावा जनपद के आम जनमानस के दिलों में भी डीएम दीपक मीणा के ट्रांसफर को लेकर चर्चा बना रहा। सरल व न्यायिक स्वभाव को लेकर लोगबाग चर्चा करते भी देखे गए।

विदाई समारोह के इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक डा. यशवीर सिंह ने निवर्तमान जिलाधिकारी दीपक मीणा को विदाई देते हुए कहा कि विदाई के अवसर पर लोगो के दिलों में दुःख भरा होता है। उन्होने बताया कि जनपद में निवर्तमान जिलाधिकारी द्वारा समय-समय पर मार्गदर्शन मिलता रहा है। कभी-कभी कठिन परिस्थितियों में महोदय के निर्देशों से सभी कार्य आसानी से सम्पन्न हो जाते थे।

पुलिस अधीक्षक डा. यशवीर सिंह ने कहा कि जिलाधिकारी के नेतृत्व में त्यौहार तथा विधानसभा निर्वाचन सकुशल सम्पन्न हुआ है। जिलाधिकारी ने समाज के सभी लोगो की समस्याओ को सुनकर उनका निराकरण कराया है। पुलिस अधीक्षक ने निवर्तमान जिलाधिकारी दीपक मीणा को जनपद मेरठ का जिलाधिकारी बनाये जाने पर शुभकामनाये देते हुए उज्ज्वल भविष्य की कामना की।

विदाई समरोह में कार्यक्रम में मुख्य विकास अधिकारी पुलकित गर्ग ने बताया कि निवर्तमान जिलाधिकारी दीपक मीणा का सानिध्य जनपद में मुझे विगत ढाई वर्षो से मिल रहा है। मेरा सौभग्य है कि जिलाधिकारी महोदय के साथ रहने का सबसे अधिक अवसर मुझे मिला है। उन्होने बताया कि परिवार का मुखिया होने के नाते उनका सम्पूर्ण अधिकार था कि यदि कही से गलती हो रही है तो नाराजगी भी स्वभाविक है। परन्तु जिलाधिकारी ने बड़े भाई की तरह मागदर्शन किया है। जिलाधिकारी महोदय से बहुत कुछ सीखने का मौका मिला है। मुख्य विकास अधिकारी पुलकित गर्ग ने निवर्तमान जिलाधिकारी दीपक मीणा को बधाई और शुभकामनाऐ दी।

मुख्य अतिथि/निवर्तमान जिलाधिकारी दीपक मीणा ने अपनी विदाई समारोह कार्यक्रम के अवसर पर समस्त अधिकारियों/कर्मचारियों/मीडिया प्रतिनिधियों का आभार प्रकट करते हुए कहा कि शासकीय सेवा में स्थानान्तरण एक नैतिक प्रक्रिया है। उन्होने कहा कि जो भी अधिकारी हैं उन्हें जिस जगह भी तैनाती मिले उन्हेंं काम करने की बेहतर से बेहतर प्रक्रिया अपनाकर कार्य करना चाहिए। उन्होनें ने बताया कि शासकिय दायित्वों का निर्वाहन ठीक ढगं से करना चाहिए।

निवर्तमान जिलाधिकारी दीपक मीणा ने अपने संबोधन में कहा कि कानून व्यवस्था को सकुशल निर्वहन करने के लिए जनपद के पुलिस अधीक्षक डा. यशवीर सिंह, विकास कार्याे को उच्चस्तर तक और सही ढगं से क्रियान्वित किये जाने के लिये मुख्य विकास अधिकारी पुलकित गर्ग दोनो अधिकारी बहुत ही अच्छे है। जनपद सिद्धार्थनगर एक शान्तिप्रिय जनपद है। निवर्तमन जिलाधिकारी ने बताया कि एक जनपद एक उत्पाद के अन्तर्गत सिविल सर्विस डे पर सम्मानित करने के लिए चयनित किया गया है। यह सम्मान प्रधानमंत्री द्वारा दिया जाता है।

उन्होने विदाई के अन्त में समस्त अधिकारियों/कर्मचारियों/मीडिया प्रतिनिधियों का आभार प्रकट करते हुए धन्यवाद ज्ञापित किया। उन्होने कहा कि जनपद में मेरे पूरे कार्यकाल के दौरान समस्त अधिकारियों/कर्मचारियों का पूरा सहयोग मिला। पुलिस अधीक्षक डा. यशवीर सिंह तथा मुख्य विकास अधिकारी  पुलकित गर्ग द्वारा निवर्तमान जिलाधिकारी दीपक मीणा को साफा पहनाकर तथा शाल भेंटकर सम्मानित किया तथा अन्य अधिकारियो एवं कर्मचारियों द्वारा निवर्तमान जिलाधिकारी को बुके आदि भेट किया गया।

इस अवसर पर उपजिलाधिकारी नौगढ़ विकास कश्यप, डुमरियागंज, तहसीलदार नौगढ़ सतीश सिंह, प्रेसागर चैधरी, राम करन गुप्ता, राम समुझ, सुजीत जायसवाल, अरूण प्रजापति, पवन मिश्रा, सिद्धार्थ शंकर पाण्डेय, परमात्मा प्रसाद यादव, अभिमन्यू चैधरी, संतोष श्रीवास्तव, मुकेशपुरी गोस्वामी, ओम प्रकाश पाण्डेय, काशिम रिजवी आदि लोगो द्वारा विदाई समारोह कार्यक्रम में संबोधित किया गया। विदाई समारोह कार्यक्रम का संचालन नाजिर कलेक्ट्रेट गिरीश चन्द्र मिश्रा द्वारा किया गया।

इस अवसर पर समस्त उपजिलाधिकारी, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. अनिल कुमार चैधरी, जिला विद्यालय निरीक्षक अवधेश नारायण मौर्य, पी. डी. सुरेन्द्र कुमार गुप्ता, डीसीएनआरएलएम योगेन्द्र लाल भारती, जिला पंचायत राज अधिकारी आदर्श, जिला आबकारी अधिकारी रवीन्द्र प्रताप सिंह, जिला सूचना विज्ञान अधिकारी नसीम अहमद, जिला समाज कल्याण अधिकारी डा. राहुल गुप्ता, जिला दिव्यांग जनशस्कतीकरण अधिकारी एजाजुल हक खान तथा अन्य जनपद स्तरीय अधिकारियों/कर्मचारियों की उपस्थिति रही।

(695)

Leave a Reply


error: Content is protected !!