प्रसूति गृह से स्टोर तक गड़बड़ी देख डीएम हुए खफा, सीएमएस समेत कईयों का वेतन काटने का हुक्म

April 4, 2016 3:34 pm0 commentsViews: 197
Share news

संजीव श्रीवास्तव

लेबर रुम में पैसा लेने की शिकायत पर नर्स को फटकारते डीएम

लेबर रुम में पैसा लेने की शिकायत पर नर्स को फटकारते डीएम

सिद्धार्थनगर। सोमवार की सुबह सवा आठ बजे जिलाधिकारी नरेन्द्र शंकर पांडेय अचानक जिला अस्पताल पहुंच गये। निरीक्षण के दौरान डीएम के सामने प्रसूति से स्टोर तक मिली गड़बड़ियों को देख वह बेहद खफा हो गये। निरीक्षण के दौरान अनुपस्थित पायी गयी सीएमएस समेत दर्जन भर डाक्टर और अन्य स्वास्थ्य कर्मियों का एक दिन का वेतन काटने का निर्देश देते हुए डीएम ने सीएमओ डा. जी.सी. श्रीवास्तव से सीएमएस के लिए किसी तेज-तर्रार डाक्टर का नाम सुझाने का भी निर्देश दिया।

जिलाधिकारी पांडेय सबसे पहले ओपीडी हाल में पहुंचे। जहां मरीज तो मिले, मगर एकाध को छोड़कर कोई भी चिकित्सक नहीं मिला। अनुपस्थित पाये जाने वाले चिकित्सकों में स्वयं सीएमएस डा. रुचस्मृति पांडेय भी शामिल रहीं। इसके बाद डीएम प्रसूति गृह में पहुंचे। जहां भर्ती महिलाओं ने डिलेवरी के बाद यहां तैनात कर्मियों द्वारा पैसा वसूलने की शिकायत की गयी।

इस शिकायत को सुनते हुए डीएम का माथा ठनक गया और उन्होंने साथ में मौजूद चिकित्सक डा. राजेश मोहन गुप्ता से मामले की जांच कर सीएमओ के माध्यम से रिपोर्ट देने का निर्देश दिया। जिलाधिकारी पांडेय ने ब्लड बैंक और स्टोर का भी निरीक्षण किया। स्टोर में ब्लीचिंग पाउडर के स्टाक में गड़बड़ी को उन्होंने गंभीरता से लेते हुए इंचार्ज से रिपोर्ट तलब किया।

डीएम के निरीक्षण की खबर मिलते ही अस्पताल परिसर में खलबली मच गयी। वहां उपस्थित कर्मियों ने कई अनुपस्थित कर्मियों को फोन से बुला लिया। जिससे कई स्वास्थ्य कर्मी तो बच गये, मगर अधिकांश कर्मियों को तो डीएम ने नाप दिया।
——-
सीएमएस  के लिए डा. राजेश मोहन के नाम की चर्चा
डीएम नरेन्द्र शंकर पांडेय ने निरीक्षण के दौरान सीएमएस डा. रुचस्मृति पांडेय की कार्यप्रणाली को लेकर जिस प्रकार का तेवर दिखाया और सीएमओ डा. जी. सी. श्रीवास्तव से किसी तेज-तर्रार चिकित्सक का नाम सुझाने का निर्देश दिया। उससे डा. पांडेय को हटाये जाने की आशंका प्रबल हो गयी है। इस पद के लिए जिन डाक्टरों का नाम रेस में शामिल हुआ, उसमें डा. राजेश मोहन गुप्ता का नाम सबसे आगे है। डा गुप्ता को नया सीएमएस बनाये जाने की चर्चा तेज हो गयी है।

(2)

Leave a Reply


error: Content is protected !!