चुनाव जीतने के लिए नेपाली नागरिकों को वोटर बनवाने का खेल शुरू, प्रशासन का ध्यान नहीं

November 9, 2020 1:23 pm1 commentViews: 420
Share news

प्रदेश की सम्पूर्ण तराई पट्टी नेपालियों को मतदाता सूची में नाम दर्ज कराने का खेला जा रहा खेल

जिले के बढ़नी, शोहरतगढ़, बर्डपुर व लोटन ब्लाक के गांवों में नेपाली वोटर बनाने का प्रयास

निजाम अंसारी

शोहरतगढ़ सिद्धार्थनगर। उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव को लेकर सरगर्मी तेज हो गई है। इसके तहत वोटर लिस्ट में नये वोटरों को जोड़ने, नाम ठीक कराने आदि का काम चल रहा है। सो गांवों में राजनतिक हलचलें तेज हो गईं हैं, मगर इसी के साथ कुछ उम्मीदवार नेपाली नागरिकों को भी वोटर लिस्ट में दर्ज कराने की साजिशें कर रहे हैं। । यह  खेल सिर्फ सिद्धार्थनगर ही नही बल्कि कमोबेश नेपाल सीमा से सटे पूरी भारतीय पट्टी में  में खेला जा रहा है। उन्हें प्रशासन में बैठक कुछ भ्रष्ट तत्वों का सहयोग मिल रहा है।

बताया जाता है कि नेपाली नागरिकों को ग्राम पंचायतों की वोटर लिस्ट में नाम बढ़वाने का कार्य जिले के सीमावर्ती गांवों में खुल कर हो रहा है। नेपाल सीमा से सटे लोटन, बर्डपुर, शोहरतगढ़ व बढ़नी विकास खंडों के तहत आने वाले दर्जनों गांवों में प्रधान, बीटीसी व जिला पंचायत पद का चुनाव लड़ने वाले कुछ प्रभावशाली उम्मीदवार इस खेल का ताना बाना बुन रहे हैं। उन्हें इस काम में मतदाता सूची बनाने वाले कर्मी का सहयोग मिल रहा है। वे कर्मी इससे अच्छी खासी रकम बना रहे हैं।

उदाहरण के लिए शोहरतगढ तहसील के ग्राम कोटिया बाजार में एक प्रभावशाली व्यक्ति ने क्षेत्र के बीएलओ को को पटा कर उन् कतिपय नेपाली नागरिकों का नाम सौंपा है। कटिया बाजार में पूर्व में भी ऐसे अने नेपालियों को मतदाता के रूप में दर्ज कराया जा चुका है। इसी प्रकार बर्डपुर ब्लाक के ग्राम पंचायत अलीगढ़वा में भी पूर्व में सौ से धिक मतदाता नेपाली हैं। इस बार भी कुछ लोग कुछ नये नाम बढ़वाने की फिराक में हैं।

सूत्रों का कहना है कि उपरोक्त चार विकास खंडों में लोटन के ग्राम ठोठरी, हरिवंशपुर, रामनगार रसियावल, लोटन बर्डपुर के अलीगढ़वा, महदेवा कुर्मी, ककरहवा, शोहरतगढ़ के ग्राम कटिया बाजार, अलगा, सिंहोरवा, बढ़नी के मढ़नी, घरुवार, गुलरी, आदि सौ से ज्यादा गांव ऐसे हैं, जहां हर चुनाव से पूर्व प्रभावशाली चुनावबाज स्थानीय वोटर लिस्ट में नेपाली नागरिकों का नाम दर्ज कराने का प्रयास करते रहते हैं। कुछ ऐसी ही ऐसी खबरें बलरामपुर, श्रावस्ती बहराइच व महाराजगंज आदि जिलों से भी मिल रही हैं। तराई पट्टी में ऐसे मतदाताओं की तादाद लाखों में बताई जा रही है।

इस बारे में सपा नेता अफसर रिज्वी कहते हैं कि यह समस्या बहुत गंभीर है। खुद जिला मुख्यालय पर ऐसे नेपाली हैं जिन्होंने अपना नाम मतदाता सूची में तो दर्ज कराया ही साथ ही  भारत की नागरिकता भी हासिल कर ली। ऐसे लोगोंं की तादाद जिलेे मेेंं १० हजार से भी ज्यादा है। उन्होंने शासन से इस प्रकरण की गहराई से छानबीन करने की जरूरत बताई है।

(404)

Leave a Reply


error: Content is protected !!