दुधमुहीं बच्ची की कातिल मां ही निकली, प्रेमी की खातिर बेटी को दिया था जहर, गिरफ्तार

August 8, 2020 12:05 pm0 commentsViews: 1280
Share news

— पारों ने आधुनिक देवदास के लिए उठाया इतना अमानवीय कदम

नजीर मलिक

सिद्धार्थनगर। चार दिन पूर्व खेसरहा थाना क्षेत्र के कलनाखोर गांव के सीवान में पाई गई नवजात बच्ची के कत्ल के राज का खुलासा हो गया है।11 माह की बच्ची निध्या की कातिल उसकी अपनी मां ही निकली, जिसका नाम अनुराधा उर्फ पारो ने उसे जहर देकर मारा गया था। इसका करण प्रेम प्रसंग बताया जाता है। इस बर्बर वाकये की जानकारी पुलिस अधीक्षक विजय ढुल ने खुद दी है। एसपी के मुताबिक हत्यारिन मां को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। इस घटना के बाद सारा गांव अनुराधा नाम की महिला पर थू थू कर रहा है।

एसपी की प्रेस कान्फ्रेंस के मुताबिक कलनाखोर गांव के रिंकू निषाद की पत्नी अनुराधा ने अपनी बेटी को जहर देकर मारने की बात कबूल कर लिया है। इस बारे में पुलिस का कहना है कि अनुराधा निषाद का क्षे़त्र के ही एक युवक से प्रेम प्रसंग चल रहा था। दोनों ने भाग कर शादी करने का मन बना लिया था, मगर प्रेमी उसकी 11 महीने की बेटी को साथ रखने पर राजी नहीं था। वह चाहता था कि अनुराधा अपनी बेटी निघ्या को पिता के पास छोड़ कर उसके साथ भागे। इस पर अनुराधा उर्फ पारों ने प्रेमी ‘देवदास’ के लिए बच्ची को मारने का खतरनाक निर्णय ले लिया।     

बताया जाता है कि अनुराधा ने बेटी को पिता के पास छोड़ने के बजाय उसे खत्म करने का मन बनाया। उसने गत 3 अगस्त को अपनी बेटी को जहर देकर मार डाला और उसकी लाश गांव के सिवान में फेंक दिया और पति का बव्वी के गायब होने की बता बता कर रोने धोने का नाटक शुरू कर दिया। लोग रात में बच्ची की तलाश में जुट गये अन्ततः उसकी लाश एक खेत से बरामद हो गई और पुलिस ने उसका संज्ञान लिया।

7 अगस्त की को अनुराधा के पति रिंकू ने खेसरहा थाने में तहरीर देकर कहा कि उसकी बेटी की मौत स्वाभाविक नही थी, बल्कि उसकी हत्या की गई है। इस पर पुलिस ने गांव में चल रही चर्चा और शक की बिना पर रिंकू की पत्नी अनुराधा उर्फ पारो से पूछ ताछ की। आखिर में वह टूट गई और उसने सब कुछ सही सही बता दिया और पुलिस ने उसे जेल भेज दिया। इस प्रकार एक पत्थर दिल मां पारो को देवदास के लिए किसे गये अपने कर्मों की सजा मिल गई।

दो चोर भी पकड़ गये

इसी प्रेस कान्फ्रेंस में एसपी वज ढुल ने चोरों को गरफतार कर उनके पास से एक लाख का माल बरामद हाने की जानकारी दी। एस पी के मुताबिक स्वाट टीम व बाँसी एवम पथरा थाना की पुलिस के संयुक्त प्रयास से 2 शातिर चोरों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने दोनों अभियुक्तों के पास से लगभग 1 लाख रुपये का चोरी का सामान भी बरामद किया है।.

गिरफ्तार अभियुक्तों में एक कृष्णा उर्फ रवि गुप्ता गुप्ता के खिलाफ जिले में 17  मुकदमे है दर्ज। वही दूसरे अभियुक्त रिंकू के खिलाफ 4 मुकदमें है दर्ज । गिरफ्तार करने में सक्रिय भूमिका निभाने वाली पुलिस टीम को पुलिस अधीक्षक ने 5000 हजार रुपये पुरुस्कार दिया है।

(1231)

Leave a Reply


error: Content is protected !!