जरूरतमंद करते रहें इंतजार, चहेतों मे बट गया कम्बल

December 19, 2016 4:00 PM0 commentsViews: 213
Share news

एम.आरिफ

कम्बल न पाने से निराश बैठी महिलाये

                                                                    कम्बल न पाने से निराश बैठी महिलाये

इटवा, सिद्धार्थनगर। स्थानीय तहसील परिसर में रविवार को प्रशासन द्वारा असहाय व गरीबों मे कम्बल वितरण कराया गया। कार्यक्रम के मुख्य आतिथि विधानसभा अध्यक्ष माता प्रसाद पाण्डेय थे। इसमें अव्यवस्था का बोलबाला था। कार्यक्रम के दौरान जरूरत मंद ठंड से ठिठुरते हुए अपनी बारी का इंतजार करते रहें, मगर उनके हिस्से का कम्बल पहुंच वाले ले उड़े।

कम्बल पाने के आस में आये ज्यादातर महिला व पुरूष असंतुष्ट दिखे। जिसका कारण था कि स्थानीय प्रशासन ने जो लिस्ट आनन–फानन में बनाई उसमें ब्लाक के एक चर्चित कर्मचारी व सत्ता के बेहद करीबियों में शुमार पूर्व प्रमुख के परिजनों की चली। जिससे असली जरूरत मन्दों में वितरित होने वाला कम्बल चहेतों तक मे ही सिमट कर रह गया ।

दूरदराज से ठंड मे आयी महिलाओ को निराश होकर लौटना पड़ा। लोगों कहना था कि सुबह से ही वह एक कम्बल की आस में डटे हैं। परन्तु यहां उन्ही लोगों को कम्बल मिला। जिसका उक्त कर्मी व सत्ता के करीब रहने वाले चर्चित व्यक्ति से जुगाड़ था। तो वहीं प्रशासन भी इस कम्बल वितरण में मनमानी करने में नही चूका।

लेखपालों द्वारा कम्बल वितरण में पात्रों की बनाई गई सूची में कम्बल वितरण के पूर्व ही उनके हस्ताक्षर व अंगूठे का निशान ले लिया गया था। जो तहसील के जिम्मेदारों पर सवालिया निशान खड़ा कर रहा है। इस सम्बन्ध में उपजिलाधिकारी जूबेर बेग का कहना है कि ये सब आरोप बेबुनियाद हैं। असली पात्रों में ही नियमानुसार कम्बल वितरित किया गया है।

Leave a Reply