फर्जी डिग्री धारक शिक्षक को लेकर माध्यमिक शिक्षा विभाग में सेटिंग- गेटिंग का खेल शुरु

November 5, 2015 3:42 pm0 commentsViews: 288
Share news

संजीव श्रीवास्तव

gulabसिद्धार्थनगर के माध्यमिक शिक्षा विभाग में एक फर्जी डिग्री धारक शिक्षक को सेवा में लेने के लिए सेटिंग गेटिंग का खेल जारी हो गया है। यह मामला बढ़नी स्थित गांधी आदर्श विद्यालय इंटर कालेज का है। जिसकी 16 अगस्त 2012 को सेवा समाप्त कर दी गयी थी।

विभागीय सूत्रों के मुताबिक उक्त कालेज के एक शिक्षक को उच्च न्यायालय, शासनादेश, संयुक्त शिक्षा निदेशक आदि अफसरों के निर्देश पर अगस्त 2012 में जिला विद्यालय निरीक्षक के आदेश पर प्रबंध समिति द्वारा सेवा समाप्त की गयी थी। सूत्रों के मुताबिक वर्तमान जिला विद्यालय निरीक्षक और प्रबंध समिति के द्वारा इस मामले में सौदेबाजी शुरु हो चुकी है।

इसकी भनक लगते ही माध्यमिक शिक्षक संघ भी सक्रिय हो गया है। संघ के जिला मंत्री गुलाब चन्द्र मौर्या ने गुरुवार को एक विज्ञप्ति जारी कर मीडिया से इस सौदेबाजी को रोकने की दिशा में आवाज बुलंद करने की अपील की है।
मौर्या ने कहा है कि जिला विद्यालय निरीक्षक और प्रबंध समिति द्वारा फर्जी डिग्री धारक शिक्षक को एक बार फिर सेवा में लाने की साजिश की जा रही है। फर्जी को असली साबित करने के कारनामें में लाखों रुपये दांव पर है। उन्होंने कहा कि अगर ऐसा किया गया तो संघ इसके खिलाफ सड़क पर उतरेगा।

इस मामले में जिला विद्यालय निरीक्षक रामकृपाल प्रसाद का कहना है कि यह मामला कोर्ट में है। कोर्ट ने उनका निर्णय मांगा है। वह इस मामले में न्यायालय में अपना पक्ष रखेंगे।

Tags:

Leave a Reply