खुनवा बार्डर पर इंसानों के लिए मिसाल बनी लंगूर और कुत्ते की दोस्ती

April 11, 2023 2:47 PM0 commentsViews: 756
Share news

सरताज अहमद

भार-नेपाल सीमा के करीब मुख्य रोड पर चुहल करते दोनों साथी

शोहरतगढ़, सिद्धार्थनगर। भारत नेपाल सीमा के नोमेन्स लैंड से सटे भारतीय कस्बा खुनुवा बाज़ार में एक लंगूर और कुत्ते की दोस्ती लोगो को खूब आकर्षित कर रही है।  तमाम श्रद्धालु नागरिक उन दोनों की जोड़ी को खूब खिला पिला कर सेवा भी कर रहे हैं। उसे देखने सीमापार नेपाली क्षेत्र के गांव कस्बों से भी लोग आ रहे है। दोनो का चौबीसो घंटे एक साथ रहना, खाना और घूमना क्षेत्र मे चर्चा का बिषय बना हुआ है।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक एक विशेष प्रजाति काले मुंह का लंगूर हाल में ही कहीं से खुनुवा बाजार आ कर रहने लगा। बताते हैं कि इसी बीच उस लंगूर की दोस्ती एक देसी नस्ल के कुत्ते से हो गयी और कुछ दिनों बाद वह दोनों एक साथ घूमते देखे जाने लगे। खुनुवावासियो ने बताया कि जब से दोनो की दोस्ती हुई तब से दोनो का साथ मे खाना पीना साथ साथ हो रहा है। उन्हें देखने नेपाल के मर्यादपुर से आये श्याम थापा ने बताया कि वह लंगूर के लिए कुछ नेपाली खाद्य पदार्थ लेकर आये हुए हैं। अन्य लोग भी श्रद्धावश सदा कुछ न कुछ देते ही रहते हैं।  खुनवा चौकी के कुछ पलिसकर्मी भी इनकी दोस्ती की चर्चा करते देखे जा सकते हैं।

इन दोनों के अपसी खेल कूद की तस्वीरे आम हैं। खुनुवा के लोगों के अनुसार एक दिन तो भारत नेपाल सीमा के बीचो बीच दोनो गले मिल रहे थे जिसका विडियो सोशल मीडिया पर जम कर वायरल हो रहा है। अभी तक तो इंसान, जानवर, पक्षी आदि की दोस्ती देखी गयी थी लेकिन कुत्ते और लंगूर की इस तरह की अनोखी दोस्ती क्षेत्र में पहली बार देखी जा रही है। क्षेत्रीय लोगो का कहना है कि दोनो इंसानों की तरह एक दूसरे का हाथ पैर दबाते भी देखे जाते हैं। लंगूर और कुत्ता  जाति बिरादरी से हट कर अपनी दोस्ती जिस तरह से निभा रहे हैं वो आज के दौर में इंसानों के लिए मिसाल है।

Leave a Reply