वर्दी को सलामः गरीब मेधावी छात्र को साईकिल देे कर इंस्पेक्टर ने पेश किया जज्बे की मिसाल

November 7, 2020 3:08 pm0 commentsViews: 346
Share news

पुलिस में कुछ लोग हैं, जो अक्सर मानवता निभाते हैं, उसी श्रेणी में हैं इंस्पेक्टर रणधीर मिश्रा


आरिफ मकसूद

सिद्धार्थ नगर, इटवा। जहां एक ओर उत्तर प्रदेश पुलिस अपने कारनामों और थाने पर पहुंचने वाले फरियादियों के साथ बुरे बर्ताव से वर्दी को दागदार कर रही है, वहीं कई ऐसे भी लोग हैं, जो मानवता की मिसाल कायम कर पुलिस की छवि जनता में अच्छी बनाने का काम कर रहे हैं. ऐसे ही लोगों में सिद्धार्थ नगर जनपद के थाना त्रिलोकपुर के इंस्पेक्टर रणधीर मिश्रा का नाम शुमार होता है।

ग्राम खखरांव के बारह साल के एक यतीम छात्र कृष्णा की साईकिल गायब हो गयी थी. गरीबी के चलते नई साईकिल नहीं ले पर रहा था, जिससे कोचिंग व स्कूल आने जाने में असमर्थ है और उसे पढ़ाई पूरी करने के लिए एक साइकिल की जरूरत थी। वह एक गरीब मगर मेधावी छात्र था। उसके गरीब परिवार को समझ में नहीं आ रहा था कि वह क्या करे?

छात्र कृष्णा की इस पीड़ा की जानकारी जब इंस्पेक्टर रणधीर मिश्रा को मिली तो उन्होंने छात्र एंव उसकी मां यशोदा देवी को बुला कर एक नई साइकिल देकर मानवता की मिसाल कायम की। उनके इस कदम से कृष्णा को आगे पढ़ाई करने में बहुत मदद मिलेगी। साइकिल पाकर छात्र कृष्णा एंव उसकी मां ने थानाध्यक्ष त्रिलोकपुर रणधीर मिश्रा को दिल से दुआएं दी।

वहीं, रणधीर मिश्रा ने कहा कि मुझे समाज के जरूरतमंद लोगों की मदद करना अच्छा लगता है। ज्ञात रहे कि रणधीर मिश्र जिस भी थाने पर रहते हैं, वह सामाजिक सरोकारों से हमेशा जुड़े रहने के लिए जाने जाते हैं।

(322)

Leave a Reply


error: Content is protected !!