मंदिर के पास की जमीन के पटूटे पर निर्माण से धार्मिक विवाद होने की आशंका, प्रशासन मौन

April 7, 2021 11:41 am0 commentsViews: 505
Share news

धार्मिक आस्थाओं का अपमान करने के लिए किया गया पट्टा – श्याम सुंदर चौधरी

निज़ाम अंसारी

शोहरतगढ़ सिद्धार्थनगर नगर पंचायत शोहरतगढ़ के गड़ाकुल में स्थित एक मंदिर और उससे सटे पोखरे ने विवाद का रूप लेना शुरू कर दिया है। जिसके कारण जनता और श्रद्धालुओं में रोष है। उनका कहना है कि यदि मामले को गंभीरता से हैंडल नही किया गया तो आने वाले समय में व्यापक विवाद की संभावना है

 बताया जाता है कि 2015 में गड़ाकुल के कुछ लोगों को पोखरे से सटे भूमि पर पट्टा दिया गया था। जिसमें कुछ लोगों का पट्टा वैध तो कुछ का अैध बताया जाता है। इसके अलावा पोखरा एक मंदिर से सटा है। रोष का कारण यह भी है कि मंदिर से लोगों की आस्था जुड़ी हुई है और उससे सटे पोखरे का पट्टा किया जाना लोगों की भावनाओं का मजाक उड़ाना बताया जाता है।

 मामले को लेकर कागज के घोड़े दौड़ाए जा रहे हैं एक के बाद एक लिखा पढ़ी अब तक किसी काम की नहीं दिखी। पट्टाधारकों में ऐसे लोग भी शामिल हैं, जिनके पास दो मंजिला मकान तक हैं। लेकिन आपत्ति के बाद भी उनका पट्टा निरस्त नहीं हुआ। अब पट्टाधारक उक्त भूमि पर निर्माण कार्य कर रहे हैं। मामले को लेकर स्थानीय नेता श्याम सुंदर चौधरी ने एक बार फिर प्रशासन को आगाह करते हुए जिले के उच्च अधिकारियों को रजिस्टर्ड डाक द्वारा मामले की गंभीरता से अवगत कराया गया है। उन्होंने आरोप लगाया है कि प्रशासन इन अपात्र व्यक्तियों का पट्टा तुरंत खारिज करें जिससे आम जनता की धार्मिक, सामाजिक और पारस्परिक आस्था को ठेस पहुँचने से बचाया जा सके।

 बताते चलें कि जिन लोगों को पट्टा प्राप्त है उनमें सिर्फ एक व्यक्ति ही पात्र है बाकी सब के पास मुख्य मार्ग पर पक्के मकान और दो मंजिला इमारत पहले से ही है जिससे जनता भड़की हुई है।

(474)

Leave a Reply


error: Content is protected !!