पूर्वांचल में गठबंधन से टिकट की मारामारी तेज, सबसे बड़ा घमासान सिद्धार्थनगर में

August 11, 2018 1:14 pm0 commentsViews: 2569
Share news

— गणेश शंकर पांडेय, माता प्रसादद पांडेय, डा. अयूब व अब्बास अंसारी जैसे दिग्गज पसीने में डूबे

नजीर मलिक

गोरखपुर।,फूलपुर, गोरखपुर, कैराना और नूरपुर में गठबंधन की ताकत ने जिस तरह से भाजपा का किला ढहाया है, उसे देखते हुए पूर्वांचल के सियासी दिग्गजों में गठबंधन से टिकट पाने के लिए अब धमासान शुरू हो गया है। पूर्वांचल में तो सत्ताधारी दल के कई नेता गठबंधन से टिकट के फिराक में लग गये हैं। इसमें कम से कम दो मौजूदा सांसद भी हैं।

घोसी बांसगांव 

बात करे पूर्वांचल और आसपास की तो गोरखपुर की बांसगांव सुरक्षित सीट पे एक वर्तमान सांसद और एक करीबी जिले के वर्तमान विधायक ने हाथी का महावत बनने के लिए अर्जी डाल दी है। सांसद की तो बसपा सुप्रीमो के एक करीबी विधायक से कई राउंड की बात भी हो चुकी है । वहीं बगल की चर्चित घोसी सीट पर बाहुबली मुख़्तार के पुत्र  अब्बास अंसारी और हाल ही में बसपा में शामिल बल कृष्ण चौहान की दावेदारी है। अब्बरस के खेमे में इस बात की चर्चा है कि बाल कुष्ण के आने से उनकी उम्मीदवारी को बराबर की टक्कर मिल रही है।

गोरखपुर, महाराजगंज
गोरखपुर सदर सीट जहा सपा के वर्तमान सांसद प्रवीण निषाद का नाम है तो महराजगंज में पूर्व सभापति विधान परिषद गणेश शंकर पांडेय और काशीनाथ शुक्ल में गठबंधन का चेहरा बनने की जोर आजमाइश चल रही है। हालांकि गणेश शेकर पांडेय बसपा के बड़े ब्राह्मण चेहरों में शुमार किये जाते हैं, लेकिन काशी नाथ की सक्रियता उनकी नाक में दम किये हुए है।
सिद्धार्थनगर

संतकबीरनगर में हालांकि अभी पूर्व बसपा सांसद कुशल तिवारी की ही दावेदारी दिख रही है तो बगल में सिद्धार्थनगर जिले की  डुमरियागंज सीट पे जम कर घमासान मचा हुआ है।यहां  डाक्टर अयूब और  आफ़ताब आलम में जोर आजमाइश चल रही है, लेकिन हाल में राहुल गांधी ने  कांग्रेस नेता व पूर्व सांसद मो. मुकीम से मिल कर तथा अखिलेश यादव ने पूर्व विधानसभा अध्यक्ष माता प्रसाद से मिल कर यह संदेश दिया है कि दौड़ अभी पूरी नही हुई है। यानी यहां टिकट की रस्सकशी तगड़ी है

बस्ती सीट पे पूर्व मंत्री राम प्रसाद चौधरी जहां बसपा से दावेदारी कर रहे है तो पूर्व कैबिनेट मंत्री राजकिशोर भी सियासी गोटिया बिछा रहे हैं। .राजनितिक चर्चाओं की माने तो पूर्व विधानसभा प्रत्याशी रहे भाजपा के एक पूर्वांचल के ब्राह्मण नेता जो अभी भाजपा में हैं वो भी बगल की देवरिया सीट से गठबंधन का चेहरा बनने को हाथ पैर मार रहे हैं।  चर्चा है की उनकी पैरवी सपा के पूर्वाञ्चल के एक दिग्गज कर रहे हैं।  अब देखते है सियासी ऊंट किस करवट बैठता है?

 

 

 

(2280)

Leave a Reply


error: Content is protected !!