गोरखपुर ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र में हाथी की चाल बढ़ा रहे हैं दारा सिंह निषाद

August 12, 2020 11:51 am0 commentsViews: 410
Share news

अजीत सिंह

गोरखपुर। 2022 के प्रारम्भ में होने वाले चुनाव में गोरखपुर ग्रामीण विधानसभ क्षेत्र से बसपा ने अभी से तैयारी  शुरू कर दी है। इसके एि उसने 6 महीने पहले ही बहुजन समाज पार्टी ने क्षेत्र में निषाद समाज के कद्दावर दारा सिंह निषाद पर पर दाव लगा दिया है। पार्टी को पूरा यकीन है कि निषाद बाहुय इस क्षेत्र से इस बार बसपा जरूर जीतेगी।

  खबर है कि पार्टी की उम्मदवारी प्राप्त करते ही  दारा निषाद और उनके भाई राजकुमार निषाद की टीम गोरखपुर ग्रामीण क्षेत्र में घर घर जा कर जहाँ अपने सजातीय वोट को सहेज रही है। वहीं अकलियत के लोगो को यह बताना नही भूल रही कि  अब उनका हित बसपा में ही सुरक्षित है।  बता दे कि आजम खान के मुद्दे पर सपा सुप्रीमो की खामोशी की चर्चा भी बसपा के लोग अकलियत समाज के लोगो के बीच रख रहे हैं, जो उनको सोचने पर मजबूर कर रहा है।

 ग्रामीण विधानसभा के योगेन्द्र निषाद, राजू कुमार, फरहान अली , सुल्तान, मकसूद शेख, जब्बार बताते है कि बसपा के राज में कानून व्यवस्था की मजबूती की बात किसी से छुपी नहीं है। दारा निषाद के छोटे भाई राजकुमार निषाद युवाओ की टीम बना के और बसपा के कैडर के साथ ग्रामीण विधानसभा की खाक छान रहे हैं। चुनाव में भले अभी 15 महीने का वक़्त है, लेकिन ग्रामीण विधानसभा मे हाथी की चाल की धमक अभी से महसूस की जाने लगी है।

बता दें कि गत चुनाव में इस क्षेत्र से भाजपा के विपिन सिह बमुश्किल चार हजार मतों से जीत सके थे। तब उन्हें यादवो का भी बड़ा वोट मिला था। इस बार यादव समाज में भाजपा के प्रति गुस्सा है, इसलिए यदि भाजपा यहा8 से यादव प्रत्याशी भी देती है तो भी उसे यादव मत मिल सकेगा, इसमें संदेह है। इस लिए सपा का आजम खान फैक्टर और भाजपा के प्रति यादवों में असंताष से क्षेत्र का पुराना समीकरण् बदला बदला नजर आ रहा है।

(362)

Leave a Reply


error: Content is protected !!