ग्रामसभा चुनाव 6 माह के लिए टलेगा? प्रधानों के चेहरे खिले, उम्मीदवार हैरानी में डूबे

September 5, 2015 3:43 pm1 commentViews: 798
Share news

नजीर मलिक

panchyat-election-logo_2015110_102550_09_01_2015सूबे में ग्राम पंचायत का कार्यकाल 6 माह बढ़ेगा। चुनाव अब मई 2016 में होने की उम्मीद है। हालांकि अभी तक शासनादेश जारी नहीं हुआ है, लेकिन जिम्मेदार अधिकारी इस सम्भावना से इनकार नहीं कर रहे है़ं। शासनादेश शाम तक जारी हो जाने की उम्मीद है। इस खबर से जहां ग्राम प्रधानों में खुशी है, वहीं चुनाव में उन्हें पटखनी देने की मंशा रखने वाले भावी उम्मीदवारों के माथे पर शिकन पड गयी है।

खबर के मुताबिक एक सूचना पूरे प्रदेश में लीक हुई, जिसके मुताबिक शासन की मंशा ग्राम पंचायतों के चुनाव टाल कर मई में कराने की है। जिम्मेदार सूत्रों का कहना है कि इस आशय का शासनादेश शाम या देर रात तक जारी हो सकता है। यह सूचना ग्रामीण इलाकों में भी पहुंच रही है।

वर्तमान ग्राम प्रधान इस सूचना के बाद बेहद उत्साह में हैं। इसलिए कि उन्हें कम से कम सात माह काम करने का मौका और मिल गया है। समय से काला सफेद न कर पाने वाले प्रधान तो और प्रसन्न हैं कि उन्हें कुछ और मौका मिल गया है।

इस खबर से सिद्धार्थनगर जिले में ग्राम प्रधानी का चुनाव लड़ने का ख्वाब संजोने वाले तकरीबन पांच हजार गंवई छत्रपों में भारी निराशा है। चुनाव लड़ने की तैयारी में लगे एक नेता का कहना है कि उन जैसे लोगों की तकलीफ बढ़ गई है। वह स्वयं तैयारी में लग गये थे। काफी रूप्या पैसा भी खर्च हो गया था। अब सात महीने तक उन्हें लोगों के बीच रह कर अपनी जेब ढीली करनी पड़ेगी। दएक अन्य प्रत्याशी का कहना था कि अगर उन लोगों ने गांवों में खर्च करने से हाथ समेटा तो नाराजी बढ़ेगी। इसलिए उनको रो कर भी यह सब करना पडेगा।

ग्राम प्रधान संघ के बस्ती मंउल अध्यक्ष ताकीब रिजवी का भी यही मानना है कि इससे प्रधानों को राहत मिलेगी लेकिन चुनाव लडद्यने वालों की कई तरह की कठिनाइयां बढ़ गई है। खबर है कि इस खबर को लेकर दलाल वर्ग बहुत खुश है। उसका मानना है कि गांवों के आरक्षण बदलवाने के नाम पर उनका ठंडा पड चुका धंधा एक बार फिर चमक जायेगा।

इस बारे में जिला पंचायत राज अधिकारी शशिकांत पांडेय का कहना है कि अभी तक उनके पास इसकी अधिकृत सूचना नहीं आई है। लेकिन उन्होंने इतना स्वीकार किया कि शासन जिला पंचायत चुनाव कराने के बाद ही ग्राम सभा चुनाव कराने का मन बना चुका है। लेकिन जब तक आदेश नही आयेगा, कुछ कहा नहीं जा सकता है।

(5)

Tags:

1 Comment

Leave a Reply


error: Content is protected !!