ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन इटवा तहसील इकाई का गठन, अम्बिका मिश्रा अध्यक्ष, मोहम्मद मेहँदी बनाये गये महामंत्री

July 23, 2020 2:26 pm0 commentsViews: 186

एम. आरिफ

इटवा, सिद्धार्थनगर। ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन तहसील इटवा इकाई की बैठक रविवार को इटवा ब्लाक सभागार  में हुई। इस दौरान एसोसिएशन की कार्य कारिणी का गठन हुआ। जिसमें सर्वसम्मत से अम्बिका मिश्रा अध्यक्ष, मोहम्मद मेहँदी  महामंत्री,  मुकेश मिश्रा वरिष्ठ उपाध्यक्ष, शिवकुमार चौबे उपाध्यक्ष, आरिफ मकसूद सम्प्रेक्षक,  परवेज अहमद  कोषाध्यक्ष, रामपूजन सोनी व निसार अहमद को कनिष्ठ उपाध्यक्ष  बनाया गया।

कार्यकारणी सदस्य में जटा शंकर सोनी, प्रवीण श्रीवास्तव, संतोष कौशल, सोमनाथ जायसवाल, रवि वर्मा, प्रमोद मिश्रा, बबलू गिरी, अनिल सोनी, राकेश पाण्डेय, एजाज सिद्दीकी, अब्दुल कुद्दूस, मोहम्मद शाबान, अमित श्रीवास्तव, जंग बहादुर चौधरी, नन्दलाल  सोनी, राज शुक्ला, अमानतुल्लाह  का चयन किया गया। बैठक का संचालन असगर जमील ने किया  ।

बैठक की अध्यक्षता कर रहे ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन के जिला संयोजक अलोक श्रीवास्तव  ने कहा कि  आशा करता हू कि नवनियुक्त पदाधिकारी अपनी जिम्मेदारियों का इमानदारी से निर्वहन करते हुए संगठन के बैनर तले पत्रकारों में सामजस्य बैठाते हुए संगठन को गतिशीलता प्रदान करेंगे। उन्होंने कहा कि पत्रकारों के मान-सम्मान के लिए एसोसिएशन हर तरह की लड़ाई लड़ने तथा पत्रकारों को न्याय दिलाने के लिए हर प्रकार से सक्षम है। पत्रकारों का शोषण किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जायेगा।

कार्यक्रम का संचालन कर रहे  में पत्रकार असगर जमील  ने कहा कि ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन का कुनबा क्षेत्र में तेजी से बढ़ रहा है। एसोसिएशन का उद्देश्य  समस्त पत्रकारों के लिए न्याय की लड़ाई लड़ना तथा उन्हें समाज में लोकतंत्र के चौथे स्तम्भ के रूप में मजबूत बनाना। समाज के लिए सच्चाई का आईना बनना है।

नवनियुक्त तहसील अध्यक्ष अम्बिका मिश्रा ने कहा कि जिला कमेटी  ने जो ज़िम्मेदारी हमे सौंपी  है उस ज़िम्मेदारी का हम ईमानदारी से निर्वहन करते हुए संगठन को मजबूती प्रदान करेंगे। बैठक में  पुरुषत्तम दुबे, वीरेंद्र शर्मा, दिनेश कुमार यादव, जय किशोर, संजीव कुमार गुप्ता, रमेश चन्द्र, रियाज अहमद, इसरार अहमद, राम निषाद आदि पत्रकार उपस्थित रहें। बैठक के अंत में गाजियाबाद के पत्रकार विक्रम जोशी के मौत पर दो मिनट का मौन धारण किया गया। साथ ही सरकार से हत्यारों की तुरंत गिरफ़्तारी की मांग की गई।

(177)

Leave a Reply