गुड्डू हत्याकांडः प्रेम प्रकरण की लाइन पर जांच करने में जुटी पुलिस

June 11, 2017 12:48 PM0 commentsViews: 861
Share news

नजीर मलिक

bnm

सिद्धार्थनगर। जिला मुख्यालय के करीब ग्राम अहिरौली में कत्ल किये गये २५ साल के नौजवान गुड्डू यादव के मारे जाने के पीछे क्या राज है, इसे जानने की कोशिश में पुलिस जुटी हुई है। खबर है कि वह इसे आशिकी की प्रकरण मान कर जांच कर रही है। पुलिस के ऐसा सोचने के प्रमुख करण भी हैं।

दरअसल गुड्डू गांव के एक सम्पन्न परिवार कर नौजवान था। उसके घर पर ट्रैक्टर, बाइक आदि इसके प्रमाण हैं। उसके दो भाई मुम्बई में भी अच्छी कमाई कर रहे हैं। वह घर का सबसे छोटा होने के कारण घरवालों का प्रिय भी था। वह एक मस्त मौला नौजवान था। कभी ट्रैक्रटर से कुछ काम करने के अलावा घूमने अहलने का आदती था ।

पुलिस को जो सूचनाएं मिली हैं, उसके मुताबिक गुड्उू शराब का आदी था। वह लड़कियों के बारे में अक्सर चर्चा के केन्द्र में रहता था। गांव वालों के मुताबिक उसकी या उसके परिवार की गांव में किसी से दुश्मनी नहीं थी। ऐसे में पुलिस ने पूरा ध्यान उसके दारूबाजी व अन्य गतिविधियों पर लगाया है।

पुलिस सूत्रों के मुताबिक अगर मृतक या उसके परिवार की किसी से दुश्मनी नहीं थी तो हत्या कारण दारू या औरत ही हो सकती है। पुलिस का मानना था कि दारू पीने के दौरान उसका किसी से ढगड़ा नहीं हुआ था। ऐसे में पुलिस का पूरा ध्यान लड़की वाले बिंदु पर आकर ठहरता है।

बताते है कि गुड्उू का महिलाओं के प्रति आकर्षण किसी से छुपा नहीं था। पुलिस का मानना है कि हो सकता है कि उसका किसी से सबंध रहा हो और उसके परिजनों ने बदले की भावना से यह भयानक कदम उठाया हो। उसकी हत्या जिस क्रूरतापूर्ण ढंग से की गई है, वैसा आम तौर पर हत्यारे बदले की भावना के तहत ही करते हैं।

यहां गौर तलब है कि इस प्रकरण को लेकर गांव में भी खामोशी है। लगता है कि गांव वाले कुछ छिपा रहे हों। बहरहाल हत्या की कोई अन्य वजह भी हो सकती है, मगर पुलिस ने अपने छानबीन के बिंदुओं में प्रेम प्रकरण को ही ऊपर रखा है। इस बारे में सीओ मो. अकमल खां का कहना है कि अभी कुछ कहना ठीक नहीं। दो चार दिन में हत्या का खुलासा हो जायेगा।

 

 

Leave a Reply