अहिरौली मर्डर मिस्ट्री का खुलासाः प्रेमिका से मिलने की तड़प में तड़पा– तड़पा कर मारा गया था गुड्डू, दो गिरफ्तार

June 13, 2017 3:20 pm0 commentsViews: 2272
Share news

 

— बिगड़ैल गुड्डू की रंगीनियों के अनेक किस्से तैर रहे हैं गांव में, अपने से दबंग घर पर हाथ डाला तो भुगतना पड़ा अंजाम

 

अजीत सिंह

 

mmmmmmmmmm

सिद्धार्थनगर। नौ जून की रात में जिला हेडक्वार्टर से चार किमी दूर अहिरौली गांव में कत्ल किये गये राम बहादूर उर्फ गुड्डू यादव की मौत का खुलासा आज हो गया। इस घटना में शामिल दो नौजवानों को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। गुड्डू के कत्ल में प्रयोग गड़ासा और कुदाल भी पुलिस ने बरामदकर लिया है। उसका कत्ल उस वक्त किया गया जब वह अपनी महबूबा के साथ रंगरलियां मना रहा था। कपिलवस्तु पोस्ट ने घटना की रिपोर्टिंग के समय ही इस तथ्य का खुलासा कर दिया था।

पुलिस कान्फ्रेंस में आज सीओ सदर मो. अकमल खां ने पकड़े गये दोनों आरोपियों को पेश कर बताया कि गुड्डू का कत्ल उसी गांव के नितेश कुमार यादव व उसके साथी राज कुमार यादव ने मिल कर की थी। दोनों ने गड़ासे और फावड़े से बहुत नृशंसतापूर्ण तरीके से गुड्डू की जान ली थी। उसे तड़पा तड़पा कर मारा था। चूंकि घटना गांव से बहर रात में हुई थी, इसलिए किसी को पता न चल सका।

क्या था पूरा मामला

25 साल का गुड्डू हालांकि शादीशुदा था, लेकिन अक्सर वह युवतियों के चक्कर में रहता था। अच्छे परिवार और स्मार्ट होने के कारण गंवईं वातावरण की लड़कियां अक्सर उसकी ओर आकर्षित हो जाती थीं।  इधर कुछ दिनों से गुड्डू का प्रेम प्रसंग अभियुक्त की छोटी बहन से चल रहा था। दोनों के सबंधों को लेकर अभियुक्त नितेश के घर वाले परेशान थे। सम्पन्न परिवार होने के कारण वह गांव में दोनों के संबंधों को लेकर होने वाली चर्चाओं से भी खुद को अपमानित भी महसूस कर रहे थे।

अचानक 9 जून को प्रेमी प्रमिका के बीच रात में गांव से बाहर खेत में मिलने का प्रोग्राम बना। बताते हैं कि गुड्डू रात में शराब पीकर गांव के बाहर खेत के पास प्रेमिका के बताये स्थान पर पहुंचा और वहीं पड़े पुआल पर प्रेमिका के साथ रंगरलियां मनाने में मस्त हो गया। किसी सूत्र से यह खबर प्रेमिका के भाई नितेश का मिल गर्इ और उसने भयानक फैसला कर लिया।

उसने अपने एक साथी राजकुमार को पूरी बात बताई और गड़ासा व कुदाल लेकर चुपके से निकल गये। गांव के बाहर उसे गुड्डू और युवती दोनों आपत्तिजनक हलात में मिले। इसके बाद दोनों ने मिल कर गुड्उू पर दर्जनों वार किये। उसकी सांसे टूटने तक वह उन पर वार करते रहे। फिर खामोशी से घर चले आये। इसके बाद जांचोपरांत चिल्हिया थाना इंचार्ज अखिलानंद उपाध्याय ने अपनी टीम के  आज उन्हें उसी क्षेत्र के ध्रेंसा चौराहे से गिरफ्तार किया।

मनबढ़ और चरित्रहीन था गुड्डू

दरअसल गुड्डू गांव का मनबढ़ और चरित्रहीन युवक था। घर का सबसे छोटा भाई होने के कारण उसके कमाई करने वाले बड़े भाई पैसे की कमी न होने देते थे। घर पर दो ट्रैक्टर से  होने वाली आमदनी भी उसी के हाथ रहती थी। उसकी पत्नी के लाख मना करने के बावजूद वह अपनी हरकत से बाज नहीं आता था। गांव के साथ गांव के बाहर की भी कई युवतियों से उसके सबंध थे। उसकी ऐसी हरकतों के कई किस्से गांव में चर्चित हैं। लोग उसके धन और मनबढ़ई की वजह से बोल नहीं पाते थे। मगर इस बार उसने अपने से काफी सक्षम घर पर हाथ डाला और उसका अंजाम अपनी जान गवां कर भुगतना पड़ा।

 

 

 

 

(5)

Leave a Reply


error: Content is protected !!