शोहरतगढ़ः बसपा सम्मेलन में पिटने से बचे अध्यक्ष, जबरदस्त गाली गलौज, बहुत आक्रोश में थे वर्कर

April 23, 2016 8:25 AM0 commentsViews: 1490
Share news

नजीर मलिक

hathi1

आखिर वही हुआ, जिसका अंदेशा था। कल शोहरतगढ़ के गड़ाकुल क्षेत्र में हो रहे बसपा के सम्मेलन में गुस्साये वर्करों ने आपने अध्यक्ष पर जम कर भड़ास निकाली। सम्मेलन में जम कर गाली गलौज हुई। बसपा जिलाध्यक्ष के पिटने तक की आशंका खड़ी हो गई। किसी तरह हालात को मुश्किल से संभाला गया।

खबर है कि सम्मेलन शुरू होते ही तमाम वर्करों ने सवाल उठया कि बसपा जिलाध्यक्ष दिनेश गौतम और क्वार्डीनेटर राम मिलन भारती एक सपा नेता को लेकर पूरे विधानसभा क्षेत्र का दौरा किस आधार पर किया? वह र्पाी को बेचने पर क्यों तुले हुए हैं।

बताते हैं कि इसके बाद माहौल गर्मा गया। सम्मेलन में जम कर गालियां चलीं। एक वक्त तो बसपा जिलाध्यक्ष के पिटने तक की आशंका खड़ी हो गई, लेकिन मंडल क्वार्डीनेटर कल्पनाथ बाबू ने किसी तरह स्थिति संभल लिया।

दरअसल वर्करों में अध्यक्ष के खिलाफ आक्रोश बहुत दिन से चल रहा था। कई वर्करों का कहना है कि पूरे जिले में टिकट बदलने का जो खेल चल रहा है उसके पीछे बसपा जिलाध्यक्ष का ही हाथ है। सब का कहना है कि डुमरियागंज, इटवा, शोहतगढ़ में टिकट दिलाने के नाम पर बसपा अध्यक्ष ने जम कर वसूली की

पार्टी के खांटी समर्थकों का कहना ह कि इससे पार्टी की छवि खराब हुई है। उनका आरोप है कि जिस सपा ने बसपा पर पांच साल में जुल्म किये, उस दल के नेता के साथ क्षेत्र भ्रमण करने के पीछे टिकट दिलाने के नाम पर माल पानी बनाया जा रहा है। अब यह चलने वाला नहीं है।
सम्मेलन के दौरान हालांकि लोगों को समझा बुझा कर शांत किया गया, लेकिन यह खबर है कि कुछ लोग जिलाध्यक्ष दिनेश गौतम का कच्चा चिट्ठा लेकर बहिन जी से मिलने की तैयारी कर रहे हैं। उनका कहना है कि बसपा अध्यक्ष का यही रवैया रहा तो पार्टी की लुटिया जिले में डूब कर रहेगी।

बसपा अध्यक्ष ने कहा

इस बारे मे जिलाध्यक्ष दिनेश गौतम ने सारे आरोपों से इंकार किया। उनका का कहना है कि सम्मेलन में हंगामा आदि जैसी कोई बात नही रही। किसी भी पार्टी में जब कोइ तब्दीली होती है तो थोड़े बहुत मतभेद पैदा हो जाते हैं। लेकिन सभी लोग पार्टी के लिए एकजुट हैं और बसपा की जीत के लिए प्रतिबद्ध भी हैं।

Leave a Reply