… और अपने अनोखे भाषण से सब पर भारी पड गयी गांव की एक महिला

November 29, 2016 1:35 pm0 commentsViews: 373
Share news

ओजैर खान

note-band

बढ़नी, सिद्धार्थनगर। जिले के उपनगर बढ़नी में कल अजीबों गरीब दृश्य देखने को मिला। टाउन में नोटबंदी के खिलाफ जनसभा चल रही थी। इसी दौरान बैंक से पैसे न मिलने से परेशान एक महिला जन सभा के पास आयी और भाषण करने लगी। नतीजा यह रहा कि नेताओं का मंच सूना हो गया और लोग उस महिला के भाषण पर तालियां बजाते रहे

बताया जाता है कि सोमवार को नेपाल सीमा से सटे बढ़नी  बाजार में आक्रोश दिवस के अवसर पर एक सर्वदलीय सभा में रिटायर्ड प्रधानाध्यापक करम हुसैन इदरीशी  भाषण दे रहे थे। उनके भाषण के बाद एक अन्य वक्ता खडे हुए। इसी दौरान मंच के पास किरन यादव नाम की एक महिला आयी और जोर–जोर से भाषण देने लगी।

उसने पीएम मोदी और बढनी बैंक के शाखा प्रबन्धक का नाम लेकर अशोभनीय शब्दों के साथ अपना भाषण शुरू किया। अमर्यादित शब्दों के साथ चल रहे भाषण को सुनकर मंच के सामने की भीड हट कर उक्त महिला के पास आ गयी और रस लेकर उसका भाषण सुनने के साथ तालियां बजाने लगी।

बढ़नी क्षेत्र के ताकियवा गांव की रहने वाली किरन के भाषण का सार यह था। कि प्रधानमंत्री ने कानून बनाकर जनता को परेशान किया और बैंक वाले भुगतान न देकर जनता को अधमरा कर रहे हैं। वह भी तीन दिन से लाइन लगा रही है, लेकिन उसे पैसे नहीं मिल पा रहे हैं।

तालियों के बीच उसका भाषण काफी देर चला बाद में लोगों ने बमुश्किल उसे हटाया, इसके बाद ही दुबारा सभा प्रारम्भ हो सकी। सभा में नोटबंदी के खिलाफ आम आदमी पार्टी के नेता बदरे आलम, सपा नेता निसार बागी, समाज सेवी बाबा इब्राहीम सहित शेखर पान्डे,गोविंद लाल,मास्टर वसीम खान,गौतम द्विवेदी   आदि ने अपने विचार रखे।

(12)

Leave a Reply


error: Content is protected !!