कोई तो मिला दे उसे मम्मी पापा से, मुश्‍किल हुई बालक के परिजनों की तलाश

November 6, 2015 9:23 am0 commentsViews: 100
Share news

नजीर मलिक

हेल्प लाइन के वर्कर के साथ बालक अरविंद

हेल्प लाइन के वर्कर के साथ बालक अरविंद

आठ साल के उस बच्चे का नाम अरविंद है। बाप का नाम चिंनकू बता रहा है। पूरा पता नही बता पा रहा। वह अपनी मम्मी पापा के लिए लगातार बिलख रहा है तो उसके मां बाप भी कहीं न कहीं बिलख ही रहे होंगे अपने जिगर के टुकड़े के लिए। अरविंद मंदबुद्धि का है।

उसके परिजनों की तलाश चाइल्ड हेल्प लाइन के लिए मुश्‍किल साबित हो रही है। वजह यह कि बालक अपना नाम, पिता का नाम व गांव के नाम से अधिक कुछ भी बता नहीं पा रहा है। फिर भी चाइल्ड लाइन जुटी है। कि किसी तरह से बालक के परिजन मिल जाएं।

बुधवार शाम चाइल्ड लाइन को 1098 पर सूचना मिली कि त्रिलोकपुर थाना क्षेत्र के ग्राम डोमसरा में एक 8 वर्षीय मंदबुद्धि बालक मौजूद है। सूचना मिलते ही चाइल्ड लाइन के माधव मिश्र पहुंच गए और बालक को कार्यालय ले आए। काउंसलिंग के पश्चात बालक ने अपना नाम अरविंद और पिता का नाम चिनकू बताया।

उसने यह भी कहा कि उसके पिता मुम्बई कमाने गए हैंए पर जिले का नाम नहीं बता पाया। किसी तरह से उसने यह कहा कि वह बलरामपुर के उतरौला के महुआ बाजार का रहने वाला हैए पर यहां भी चाइल्ड लाइन को कोई सफलता नहीं मिली। फिलहाल अरिंवद हेल्प लाइन के संरक्षण में है। उसके उतरौला इलाके के होने की संभावनाएं है।

(7)

Leave a Reply


error: Content is protected !!