पकड़ा गया कंजड़ गिरोह पूर्वी यूपी में करता था हत्या डकैती की वारदात, भारी मात्रा में लूट का माल व असलहा बरामद

January 16, 2016 6:21 PM3 commentsViews: 5887
Share news

अजीत सिंह

प्रेस कान्फ्रेंस करते डीआईजी लक्ष्‍मीनारायण एसपी ए के साहनी और पकडे़ गये बदमाशों का दल पुलिस टीम के साथ

प्रेस कान्फ्रेंस करते डीआईजी लक्ष्‍मीनारायण एसपी ए के साहनी और पकडे़ गये बदमाशों का दल पुलिस टीम के साथ

सिद्धार्थनगर। बांसी कोतवाली के करीब सोनखर गांव के बाग में मुठभेड़ में पकडे गये डकैत पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कंजड़ गिरोह से ताल्लुक रखते हैं। वह राजधानी लखनउ समेत पूर्वी उत्तर प्रदेश की दर्जनों हत्याओं और डकैतियों में शामिल हैं। पुलिस ने उनके पास से भारी मात्रा में लूट का माल और कई असलहा बरामद किया है।

शनिवार शाम साढे चार बजे डीआइजी लक्ष्मी नारायण ने यहां पुलिस लाइन में आयोजित प्रेस कान्फ्रेंस में सोनखर के एनकाउंटर का पूरा विवरण दिया। बकौल डीआइजी पकड़े गये सभी बदमाश कन्नौज, संभल व अमरोहा जिले के है।

इस गिरोह ने दीवाली के बाद से अब तक लखनउ में 6, गोरखपुर में दो, फैजाबाद, बहराइच व बस्ती में एक-एक तथा सिद्धार्थनगर में तीन डकैतियां डाली हैं, जिसमें गिरोह ने सात हत्याएं भी की हैं। इनमें दो हत्या बढऩी में हुई लूट के दौरान की गई थी। जिसके दो सदस्य पहले ही पकड़े जा चुके हैं।

इस गिराह ने ही दीवाली की पूर्व संध्या पर बढ़नी टाउन में लूट के दौरान बुजुर्ग घनश्याम व उसकी पत्नी की हत्या की थी तथा दीपावली के दूसरे दिन सिद्धार्थनगर के भीमापार में एक व्यक्ति की हत्या कर लूट की थी। चार दिन पूर्व इटवा क्षेत्र में हुई लूट में यही गिरोह शामिल था। इसी गिरोह ने कुछ दिन पूर्व बस्ती जिले के रुधौली थाना में भारी लूटपाट की थी।

गिरफ्तार होने के बाद गिरोह के पास से बहराइच, गोरखपुर, सिद्धार्थनगर की डकैतियों में लूटे गये जेवर भी बरामद किये गये हैं। पुलिस ने इनके पास से 12 बोर का तीन अदद देसी तमंचा व कई धारदार हथियार भी बरामद किये हैं। पुलिस ने सभी दस बदमाशों को धारा 399, 402, 307 के तहत जेल भेजा है।

पकडे़ गये डकैतों के नाम पते

पकड़े गये बदमाशों में शोयेब पुत्र जुगनू व साहिल पुत्र नियामत साकिन थटिया टोला जैनपुर जिला कन्नौज के रहने वाले है। इसके अलावा साबिल हसन पुत्र रेशमदीन व नबीजान पुत्र कयूम ग्राम दहेटा थाना हयानगर जिला संभल के निवासी है। इसके अलावा समीर पुत्र अफजाल, अफजाल पुत्र खलील ग्राम सनाजपुर छोर थाना गजरौला जिला अमरोहा के रहने वाले है।
बाकी चार डकैतों में सल्ल्न पुत्र रमजान व मीर पुत्र जान मुहम्मद ग्राम अलीपुर बहेरा तथा मेहदी हसन पुत्र जान मोहम्मद ग्राम रसूलाबाद थाना सुल्तानपुर घोष और आजम पुत्र मजीद साकिन अस्ति थाना बाकरगंज जिला फतेहपुर के निवासी हैं।

बरामद जेवरों की सूची

इन बदमाशों द्धारा डाली गई डकैेतियों के दौरान लूट गये जेवरों में से कुछ की बरामदगी हुई है। जिसकी जिलेवार सूची निम्न है।
जिले के इटवा, बढ़नी व जिला मुख्यालय के भीमापार में हुई लूट में इन बदमाशों के पास से सोने का झाला, मंगलसूत्र, एक मोबाइल सेट तथा साढे पांच हजार नकद रकम बरामद की गई है। इसी तरह बहराच की डकैती में से लूटी गई सोने की बाली, सोने की कील, दो जोड़ी बिछिया बरामद हुई है।

इसी प्रकार गोरखपुर के पिपराइच से लूटी गई सोने की बाली, नोकिया मोबाइल, सोने का झुमका, सोने का मंुगल सूत्र व चादी की 3 जोड़ी पायलें बरामद हुई हैं। तो बेलीपार गोरखपुर की डकैती से लूटी गई नोकिया मोबाइल व कपड़े का एक बैग तथा लखनउ की लूट में उड़ाया गया लैपटाप बरामद हुआ है।

डीआई जी थपथपाई पुलिस की पीठ दिया इनाम

पुलिस की इस सफलता पर गदगद डीआई जी लक्ष्मी नारायन ने अपनी ओर से पुलिस टीम को पाच हजार व आईजी की ओर से दस हजार का इनाम दिया है। उन्होंने एसपी अजय कुमार साहनी के लीडरशिप की जमकर तारीफ भी की।

3 Comments

Leave a Reply