Big news– डुमरियागंजः कमाल यूसुफ बोले– जो समर्थन मांगने आयेगा, उस पर गौर करेंगे

February 5, 2017 5:37 pm0 commentsViews: 3098
Share news

–अब इरफान मलिक संभालेंगे राजनीतिक विरासत, इलेक्शन बाद नये सिरे से करेंगे राजनीति

–विधायक आवास पर हुई बैठक में सपाइयों की भीड़, कई प्रमुख पदाधिकारी रहे बैठक में मौजूद

सपाइयों की बैठक में भावुक हो कर बोलते विधायक मलिक कमाल यूसुफ

सपाइयों की बैठक में भावुक हो कर बोलते विधायक मलिक कमाल यूसुफ

नजीर मलिक

सिद्धार्थनगर। डुमरियागंज के सपा विधायक मलिक कमाल यूसफ के आवास पर हुई बैठक में दो बड़ा एलान किया गया है। पहला यह कि कमाल खेमा सपा में रह कर अपनी लड़ाई लड़ेगा और जो उम्मीदवार विधायक से उनके घर मिल कर समर्थन की मांग करेगा, उस पर गौर किया जायेगा। दूसरा यह है कि अब कमाल यूसुफ के निर्देशन में उनके बड़े बेटे इरफान मलिक सक्रिय राजनीति करेंगे यानी वालिद की सियासी विरासत संभालेंगे।

आज १२ बजे दिन में डुमरियागंज स्थित मलिक कमाल यूसुफ के आवासीय प्रांगण में डुमरियागंज के असंतुष्ट सपाइयों की भारी भी जुटी। सबकी इच्छा थी की विधायक कमाल यूसुफ को चुनाव लड़ना चाहिए। यही नहीं आगे की रणनीति क्या होगी, इस पर चर्चा की गई।

मैदान नहीं छोड़ा, धोखेबाज को सजा देना है

इस पर वर्करों को सम्बोधित करते हुए मलिक कमाल यूसुफ ने कहा कि उनकेसाथ विश्वासधात हुआ और उन्हें मुलायम सिंह का करीबी होने की सजा मिली। लेकिन इस सजा का मतलब यह नहीं की वह मैदान छोड़ गये हैं। वह फिलहाल पार्टी में रह कर लड़ाई लड़ेंगे और कुछ लोगों को मजा चखायेंगे। उन्होंने कहा कि मुलायम सिंह यादव जी हमारे नेता हैं। चुनाव बाद उनसे मिल कर ही कोई फैसला लेंगे।

मेरा टिकट नहीं कटा, अकलियत के अरमानों का गला कटा

उन्होंने कहा कि मेरा टिकट काट दिया गया। मेरा नहीं पूरे बस्ती मंडल में हर मुस्लिम लीडर को किनारे कर दिया गया। इससे तीन जिलों के १५ लाख मुसलमान बहुत परेशान हैं। हमारा टिकट ही कटा है, मगर लाखों लोगों के अरमानों का गला काटा गया है। अब बस्ती संतकबीरनगर व सिद्धार्थनगर के अल्पसंख्यक खुद तय करेंगे कि किसे वोट देना चाहिए।

जो मदद मांगेगा, उस पर गौर करेंगे

उन्होंने कहा कि डुमरियागंज से जो उम्मीदवार उनसे चुनावी मदद मांगने आयेगा, उसके अनुरोध पर गौर करेंगे और जिसका समर्थन करेंगे, उसके साथ हमारे वर्कर और समर्थक तन मन धन से होंगे और चुनाव जिता कर लायेंगे।

विधायक कमाल यूसुफ आज बहुत भावुक थे। वह बार बार नेता जी की जुबान की वकत की चर्चा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि नेता जी पुराने साथियों का बहुत सम्मान करते थे। लेकिन नई पीढ़ी ने सब कुछ मिटा दिया। तमाम मुस्लिम नेताओं का टिकट कटना इसका सबूत है। बेहद भावुक होने की वजह से वह अधिक नहीं बोल सके।

इरफान करेंगे सक्रिय राजनीति

सभा के बाद सपा नेता काजी नियामातुल्लाह ने प्रस्ताव रखा की विधायक जी बढती उम्र के कारण अब इरफान मलिक को राजनीति में सक्रिय करें और अपने निर्देशन में उनको परिपक्व करें। उनके इस प्रस्ताव का सभी ने हाथ उठा कर समर्थन किया।

बैठक में सपा के जिला महामंत्री सगीर मलिक उर्फ बब्बर मलिक, दिनेश पांडेय, सुरेंद्र पांडेय, काजी नियामतुल्लाह, डा. आफाक, एस.पी. श्रीवास्तव, सूफियान अख्तर, पुरुषोत्तम पांडेय, पप्पू दुबे, तोता राम वर्मा आदि सैकडों पुराने सपाई शामिल रहे। बता दें किसपा प्रत्याशी और विधायक कमाल यूसुफ का टिकट अंतिम क्षणों में काट दिया गया है तथा सपा नेता चिनकू यादव यहां से सपा के उम्मीदवार बनाये गये हैं।

(4)

Leave a Reply


error: Content is protected !!