सिद्धार्थनगर में इसाई मिशनरियों की सक्रियता बढ़ी, धर्मांनतरण की चर्चा, विहिप जांच में जुटी

January 8, 2018 4:28 pm0 commentsViews: 493
Share news

नजीर मलिक

विहिप अध्यक्ष  विजय प्रकाश पांडेय

“पूर्वी यूपी के सिद्धार्थनर जिले में इसाई मिशनरियों की सक्रियता बढ़ गई है। नेपाल सीमा से स्टे इस जिेले में  इसाई मिशनरियों की सक्रियता पहले भी चिंता का विषय बनी है। इस बार  उनके आयोजनों के बाद  लोगों के धर्मांतरण की खबरों को लेकर विश्व हिंदू परिषद की चिंता खुल कर सामने आई है। आरोप है कि यहां धर्मांतरण का काम संगठित तरीके से चल रहा है। इस प्रकरण को लेकर खुफिया एजेंसियां भी चौकन्नी हो गई हैं।”

बताया जाता है कि हाल के दिनों में जिले के विभिन्न क्षेत्रों खास कर नौगढ़ क्षेत्र में गरीब तबके के लोगों के इसाई धर्म में दीक्षित होने की खबरें है।  सूत्रों की मानें तो सिद्धार्थनगर जिला मुख्यालय  के शास्त्रीनगर वार्ड वार्ड में  वरुण  उपनाम के एक व्यक्ति ने इसाई मत स्वीकार किया है। इसी प्रकार जिला अस्पताल के पीछे मुड़िला गांव में  भी एक परिवार के इसाई धर्म स्वीकारने का मामला प्रकाश में आया है।  सिसवा गांव में भी एक परिवार के बारे में ऐसी चर्चाएं हैं। मुडिला गांव में तो अभी २५ दिम्बर को उस व्यक्ति के यहां   क्रिसमस के आयोजन की भी चर्चाएं हैं। ऐसी खबरें कई जगहों से मिल रही हैं।

विश्व हिंदू परिषद की मानें तो बर्डपुर क्षेत्र का सलसलवा गांव इस प्रकार के गतिविधियों का केन्द्र बना हुआ है। वहां आये दिन इसाई धर्म की प्रार्थना सभाएं होती रहती हैं। विहिप का आरोप है कि इस कार्यक्रम में लोगों को इसाई धर्म में दीक्षित भी किया जाता है।   इसके बाद वह खामोशी से इसाई धर्म को मानने लगते हैं। गाव के लोग भी वहां इस प्रकार के आयोजन की पुष्टि करते हैं।

इस बारे में विश्व  हिंदू परिषद के गोरख प्रांत के अध्यक्ष विजय प्रकाश पांडेय का कहना है कि  कि सिद्धार्थनगर में परसा तिराहे पर कुछ लोग इस काम को योजनाबद्ध तरीके से अंजाम दे रहे हैं।वहां कुछ इसाई ननें भी संदिग्ध हालात में घूमती देखी जाती हैं।  विजय प्रकाश पांढेय का कीना है कि ये लोग बीमारों  पर जयादा ध्यान केन्द्रित करते हैं और फिर उनका इलाज करा कर सानुभूति प्राप्त करते हैं तत्पश्चात उनका ब्रेन वाश करने की मुहित चालू होती है, जिसका अन्त धर्म परिवर्तन के साथ होता है।

पता चला है कि खुफिया एजेंसियां इसकी टाेह में लगी हैं। गौर तलब है कि यह जिला सीमा से सटा है।  पड़ोसी देश में इसाई मतान्तरण की खबरें जोरों पर हैं। ऐसे में यहां इस बात की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता है। विहिप ने इसकी जानकारी जिला प्रशासन को भी देने की बात कही है और पूरे मामले की जाच की मांग की है।

 

 

(280)

Leave a Reply


error: Content is protected !!