इटवा में सगे भाई बहन की डूब कर दर्दनाक मौत, दूसरे दिन मिली लाश

August 18, 2018 12:46 PM0 commentsViews: 1300
Share news

अजीत सिंह

प्रतीकात्मक फोटो

सिद्धार्थनगर । इटवा थाना मध्वापुर गांव में दो मासूम बों की डूबने से मौत हो गई। 10 का मुजीब और 7 वर्ष की सायमा सगे भाई बहन थे और वे उसी गांव के अली अहमद के बच्चे थे। दोनो बच्चों की मौत के के बाद से गांव शोक में डूबा हुआ है। डूबने की घटना शुक्रवार दोपहर की है, जबकि लाश आज सुबह बरामद हुई।

जानकारी के मुताबिक ग्राम मधवापुर निवासी अली अहमद शुक्रवार को अली अहमद जुमा की नमाज पढने गया था। लौट कर आया तो घर से दोनो बच्चे मुजीब और सायमा नदारद कुछ देर बाद उसने बच्चों को पड़सियों के यहां तलाशना शुरू किया, मगर वे न मिले। मिलते भी कैसे, वे तो दुनियां से गायब हो चले थे। बहरहाल देर शाम तक अली अहमद के साथ गांव वालों ने दोनो बच्चों की तलाश जारी रखा, फिर सबने थक हार कर सवेरे से फिर तलाश करने सोचा और घर आ गये।

बताते हैं कि आज सुबह कुछ राहगीरों ने आज सुबह गांव के पास इटवा-ढेबरुआ मार्ग के समानांतर बनी खाई में दो बच्चों की लाशें तैरती देखीं। उन्होंने शोर मचाया, जिस पर पहले से आशंकित  परिजन और गांव वाले फौरन मौके पर पहूंच गये।   खाई में तैर रही लाशें 10 साल के मुजीब और 7 साल की दसकी बहन सायमा की ही निकलीं। इसके बाद घटनास्थल पर हाहाकार मच गया। बता दें कि सडक के किनारे बनी खाई करीब पांख् फुट गहरी थी, लिहाजा ढाई से तीन फुट कद के बच्चे उससे बाहर नहीं निकल पाये और दम घुटने से उनकी जान चली गई।

दोनों बच्चों की लाशें देख गांव में शोकजनित भूचाल आ गया। ग्रामीणों ने इस घटना की सूचना इटवा पुलिस को दी । सूचना पाकर मौके पर पहुची पुलिस ने ग्रामीणों की मौजूदगी में पंचनामा कर लाश को परिजनों को सौप दिया । इस घटना से पूरे गांव में शेक का माहौल है। दूसरी तरफ अली अहमद व उसके परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है।

 

 

 

 

Leave a Reply