नवीनीकरण के नाम पर मचे लूट के खिलाफ जनसेवा केन्द्रों के संचालकों ने दिया धरना

April 3, 2016 4:04 PM0 commentsViews: 201
Share news

संजीव श्रीवास्तव

धरना देते जनसेवा संचालक

धरना देते जनसेवा संचालक

सिद्धार्थनगर। सिद्धार्थनगर जिले में ई-गवर्नेस योजना के तहत जनसेवा केन्द्रों के संचालकों ने नवीनीकरण के नाम पर मची लूट को लेकर कलेक्ट्रेट परिसर में धरना दिया और दोषी तत्वों को तत्काल बर्खास्त करने की मांग की।

धरने पर बैठे जनसेवा केन्द्रों के संचालकों ने सिद्धार्थनगर में नवनियुक्त डिस्ट्रिक सर्विस प्रोवाइडर, ईडीएम अमरेन्द्र दूबे एवं डीटीएस शिवशंभू गुप्ता पर नवीनीकरण तथा राशन कार्ड के आवेदन करने के एवज में वसूली का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि इन लोगों द्वारा नवीनीकरण के नाम पर उनसे 5 से 10 हजार रुपया नकद लिया गया व पोर्टल में 9 हजार रुपये माइनस किया गया।

ऐसा केवल सिद्धार्थनगर में हुआ। प्रदेश के अन्य जिलों यह कार्य निःशुल्क किया गया है। संचालकों ने कहा कि 18 मार्च को पोर्टल एक बार फिर माइनस कर दिया गया तथा 10 से 15 हजार रुपये पोर्टल के माध्यम से जमा करने का कहा जा रहा है। जो पूर्णरुप से अवैध है। इसके बाद उनका पोर्टल भी बंद कर दिया गया तथा बार-बार पोर्टल में पैसा डालने का दबाव बनाया जा रहा है।

स्ंचालकों के मुताबिक उक्त तीनों द्वारा पैसा न डालने पर आईडी हमेशा के लिए बंद करने की धमकी दी जा रही है। संचालकों ने उक्त आशय का पत्र जिलाधिकारी को देते हुए तीनों को तुरन्त बर्खास्त करने की मांग की है। इस अवसर पर अरविंद कुमार चौधरी, अभिषेक पांडेय, गुलजार अहमद, अतीकुर्रहमान, गिरिजेश यादव, विशाल सिंह, मनोज मिश्रा, रवि मोदनवाल, मुकुंदनाथ आदि की उपस्थिति रही।

Leave a Reply