कोरोना पीड़ित रामू की मौत से नाराज अभाविप ने स्वास्थ्य मंत्री जयप्रताप का पुतला फूंका

June 14, 2020 1:53 pm0 commentsViews: 657
Share news

नजीर मलिक

सिद्धार्थनगर। अखिल भारतीय विद्यार्थी  परिषद के नेताओं ने आज रविवार दोपहर जिला मुख्यालय पर प्रदेश के स्वास्थ्यमंत्री जय प्रताप सिंह का पुतला जलाया तथा उनके खिलाफ जम नार नरे लगाये। अभाविप वर्कर गत दिनों डुमरियागंज के कोरोना प्रभावित युवक रामू विश्वकर्मा की लापरवाही से हुई मौत से बेहद नाराज चल रहे थे।

बताया जाता है कि रविवार दोपहर अभाविप नेता राजन द्धिवेदी के नेतृत्व में विद्यार्थी परिषद के दर्जनों वर्कर जिला मुख्यालय स्थित सिद्धार्थ तिराहे पर पहुंचे और जम कर नारेबाजी करने लगे। वे स्वास्थ्यमंत्री मुर्दाबाद, रामू के हत्यारों को गिरफृतार करो जैसे आक्रोश जनित नारे लगा कर दोषियों का दंड देने की मांग कर रहे थे।

प्रदर्शन करियों का कहना था कि कोरोना के संभावित पीड़ित युवक रामू को तमाम दबाव के बाद भी जिला अस्पताल के डाक्रों ने देखना जरूरी नहीं समझा।  बहुत दबाव के बाद उन्हेंने रामू को मेडिकल कालेज गोरखपुर रेफर किया, मगर रास्ते में ही रामू की मौत हो गई।

राजन द्धिवेदी ने कहा कि स्वास्थ्य मंत्री के जिले में उनके विभाग की ऐसी गैरजिम्मेदारी शर्मनाक है। उन्होंने कहा कि इतना सब होने के बाद वे चुप बैठे हैं, जबकि उन्हें कार्रवाई करना या इस्तीफा दे देना चाहिए था।

एक अन्य समाचार के अनुसार रामू विश्वकर्मा के परिजनों को न्याय दिलाने एवम  25 लाख आर्थिक सहयोग राशि की मांग को ले शनिवार को जिला कलेक्ट्रेट परिसर में पीड़ित परिवार के पक्ष में धरना देकर मृतक राम के परिजनों को 25 लाख की आर्थिक सहायता देने की मांग की गई है।

धरना उपरांत प्रशासन को दिए ज्ञापनमें कहा गया कि जिला हास्पिटल एवम पूरे जनपद के सामुदायिक स्वस्थ केंद्रों में सुविधाओ का अभाव एवम व्यवस्था पूरी तरह खराब है। ज्ञापन में इस तरह का अमानवीय घटना पुनः घटित न होने, व प्रकरण में संलिप्त दोषियों 302 का मुकदमा पंजीकृत करने की भी मांग की गई। धरने में सिद्धांत यादव जिला प्रभारी, सुबाष, राकेश, आशीष, अजय, विनोद, आनद, आकाश आदि शामिल रहे।

(625)

Leave a Reply


error: Content is protected !!