जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति की बैठक सांसद व मंत्री के साथ संपन्न

June 29, 2019 7:33 pm0 commentsViews: 333
Share news

अजीत सिंह

सिद्धार्थनगर। जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति (दिशा) की बैठक कलेक्ट्रेट सेमिनार हाल में सांसद डुमरियागंज जगदम्बिका पाल की अध्यक्षता एवं मा. मंत्री आबकारी एवं मद्य निशेध उ. प्र. जय प्रताप सिंह, विधायक कपिलवस्तु श्यामधनी राही, विधायक डुमरियागंज राघवेन्द्र प्रताप सिंह, विधायक इटवा डा. सतीष चन्द्र द्विवेदी, जिलाध्यक्ष भाजपा लालजी त्रिपाठी, जिलाधिकारी दीपक मीणा, पुलिस अधीक्षक डा. धर्मवीर सिंह, मुख्य विकास अधिकारी हर्षिता माथुर की उपस्थिति में जिला ग्राम्य विकास अभिकरण द्वारा आयोजित बैठक सम्पन्न हुई।

बैठक में सर्वप्रथम सांसद डुमरियागंज जगदम्बिका पाल तथा मंत्री आबकारी एवं मद्य निषेध उ. प्र. जय प्रताप सिंह को जिलाधिकारी दीपक मीणा द्वारा पुष्प गुच्छ देकर स्वागत किया गया। इसी क्रम में मुख्य विकास अधिकारी हर्षिता माथुर ने विधायक डुमरियागंज को पुष्प गुच्छ देकर स्वागत किया गया तथा अन्य अधिकारियों द्वारा जन प्रतिनिधियों को पुष्प गुच्छ देकर स्वागत किया गया। सांसद डुमरियागंज जगदम्बिका पाल द्वारा सर्वप्रथम

बैठक में समस्त अधिकारियों का परिचय प्राप्त किया गया तथा बैठक में अनुपस्थित अधिकारियों का एक दिन का वेतन अवरूद्ध करने का भी निर्देश दिया।बैठक की अध्यक्षता कर रहे सांसद डुमरियागंज जगदम्बिका पाल के दिनांक 25 जून 2018 को सम्पन्न जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति (दिषा) की बैठक की तैयार की गयी कार्यवृत्त एवं अनुपालन आख्या का अवलोकन करके विभाग वार समीक्षा की गयी।

बैठक में निर्धारित किये गये एजेन्डा बिन्दु के अनुसार समीक्षा की गयी:- महात्मा गांधी राष्टीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना, दीन दयाल अन्त्योदय योजना, दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना, प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना, राष्टीय सामाजिक सहायता कार्यक्रम,

प्रधानमंत्री आवास योजना, प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना, स्वच्छ भारत मिषन, स्वच्छ भारत मिषन ग्रामीण, राष्टीय ग्रामीण पेयजल कार्यक्रम, प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना, राष्टीय भू-अभिलेखो का आधुनिकी करण कार्यक्रम, दीन दयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना आदि कुल 30 बिन्दुओ की समीक्षा की गयी। महात्मा गांधी राष्टीय ग्रामीण अजीविका मिशन योजनान्तर्गत विस्तृत कार्य योजना तैयार करने का निर्देश दिया गया।

राट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के अन्तर्गत वित्तीय वर्ष के प्रथम त्रैमास में 404 के लक्ष्य के सापेक्ष 463 का गठन हो गया है। इसके अलावा ग्राम्य अभियन्त्रण विभाग द्वारा प्रधानमंत्री सड़क योजनान्तर्गत मार्गों की प्रगति विभिन्न प्रकार की पेंशन योजनाएं राष्ट्रीय सामाजिक सहायकता सहायता कार्यक्रम, प्रधानमन्त्री आवास ग्रामीण की समीक्षा की गयी। स्वच्छ भारत अभियान के अन्तर्गत शैचालायों की प्रगति की समीक्षा की गई। जनपद सिद्धार्थनगर में स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) अन्तर्गत 86124 एलओबी परिवारों को इज्जतघर निर्माण का लक्ष्य निर्धारित है।

उक्त लक्ष्य की पूर्ति किये जाने के लिए धनराशि रूपया 10334.88 लाख की आवश्यक्ता है जिसके सापेक्ष धनराशि रु. 39 या रू. 5498 लाख प्राप्त हुआ है। इसके अलावा राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल मिशन, ग्रामीण पाइप्ड पेयजल योजनाएं निर्माण खण्ड, उत्तर प्रदेष जल निगम की समीक्षा मा0 सांसद द्वारा की गई। प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना की भी समीक्षा की गयी। सांसद डुरियागंज जगदम्बिका पाल द्वारा विद्युत विभाग की समीक्षा के दौरान जनपद में जो पोल व ट्रांसफार्मर क्षतिग्रस्त हो गये है उनको अब तक ठीक न कराये जाने पर अधि. अभि. विद्युत को कड़ी फटकार लगाते हुए तत्काल ठीक कराये जाने का निर्देश दिया गया।

सांसद डुमरियागंज ने अधीक्षण अभियन्ता विद्युत को जनपद में रोस्टर के अनुसार विद्युत आपूर्ति कराये जाने का भी निर्देश दिया गया। जनपद के जिन ग्रामों का विद्युतीकरण नही हुआ है उनका तत्काल विद्युतीकरण कराये जाने का भी निर्दे-रु39या दिया गया। इसके पष्चात सांसद द्वारा स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा की गई। सांसद द्वारा मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिया गया कि जनपद के सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, सामुदायिक स्वस्थ्य केन्द्र/जिला अस्पताल में विषेश साफ-सफाई पर ध्यान दिया जाए।

अस्पताओं में आने वाले मरीजों के इलाज पर विषेश ध्यान दिया जाए और सरकार द्वारा जो दवाएं अस्पताओं में उपलब्ध कराई गई हैं उसे मरीजों को अनिवार्य रूप से उपलब्ध कराई जाए। दवाओं की उपलब्धता में किसी प्रकार की शिकायत नहीं मिलनी चाहिए तथा किसी भी मरीज को कोई भी डाक्टर बाहर की दवा नही लिखेगा।

विधायक इटवा डा. सतीष चन्द्र द्विवेदी ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिया कि जनपद के सभी सीएचसी/पीएचसी पर रैबीज का इन्जेक्शन उपलब्ध होना चाहिए। विधायक इटवा ने अधि. अभि. विद्युत डुमरियागंज को निर्देश दिया कि विधानसभा इटवा के कई ग्रामों में विद्युतीकरण नही है वहां पर लोगो के घरों में बिल आने की शियाकायत की गयी है।

सांसद डुमरियागंज जगदम्बिका पाल ने निर्देश दिया कि 01 जुलाई 2019 से वृक्षारोपड़ का कार्यक्रम चलाया जायेगा। वर्तमान समय में जल संचयन की बहुत बड़ी आवश्यक्ता है। सांसद डुमरियागंज ने कहा कि ऐसे ही रहा तो तीसरा विरूद्ध जन के लिए ही होगा।

जिलाधिकारी दीपक मीणा ने समस्त अधिकारियों को निर्देश दिया कि -शासन की मंशानुरूप कार्य करे। किसी भी कार्य में यदि कोई समस्या आती है तो मेरे स्तर से अर्द्धशासकीय पत्र शासन को प्रेषित करे जिससे कि किसी भी प्रकार की समस्या उत्पन्न न हो। जिलाधिकारी ने जिला विकास अधिकारी को निर्देश दिया कि प्रत्येक माह समस्त ब्लाक प्रमुख तथा खण्ड विकास अधिकारी के साथ बैठक आयोजित करे जिससे कि जन प्रतिनिधियों की समस्याओं का समाधान हो सके।

इस बैठक में अध्यक्ष नगर पालिका परिषद, सिद्धार्थनगर श्याम विहारी जायसवाल, अपर जिलाधिकारी (वि0/रा0) सीताराम गुप्ता, उप जिलाधिकारी इटवा त्रिभुवन, शोहरतगढ़ अनिल कुमार,

डुमरियागंज राजेन्द्र प्रसाद, पी.डी. सन्त कुमार, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. आर. के. मिश्र, डीसीएनआरएलएम राम आसरे सिंह, डीसी मनरेगा संजय शर्मा, मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डा. ज्ञान प्रकाश, उप कृषि निदेशक डा. पी. के. कन्नौजिया, जिला कृषि अधिकारी

सी. पी. सिंह, अधि. अभि. लोनिवि (प्रा. ख.), विद्युत वितरण खण्ड सिद्धार्थनगर, अधि. अभि. जल निगम पवन कुमार यादव, जिला समाज कल्याण अधिकारी मीनाक्षी वर्मा, अपर मुख्य अधिकारी जिला पंचायत, जिला पंचायत राज अधिकारी अनिल कुमार सिंह, जिला कार्यक्रम अधिकारी राजीव सिंह, जिला समस्त कार्यदायी संस्थाओं के प्रोजेक्ट मैनेजर और उनके अधीनस्थ तथा अन्य जनपदस्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

(196)

Leave a Reply


error: Content is protected !!