कपिलवस्तु सीटः वर्तमान विधायक के गांव जाने वाली सड़क बनेगी वोट का मुद्दा,  आक्रोश में हैं लोग

January 17, 2022 1:28 PM0 commentsViews: 998
Share news

वर्तमान विधायक का टिकट काटे जाने की चर्चाएं जारी, मगर बदले राजनतिक माहौल में मिल सकता है  अभयदान

नजीर मलिक

सिद्धार्थनगर। जिले की सदर विधानसभा सीट पर इस बार चुनाव के बेहद रोचक चुनाव होने के आसार हैं। स्थानीय विधायक और हिंदू युवा वाहिनी के नेता श्यामधनी राही के गांव घर जाने वाली तेतरी- सोहांस लोटन रोड पिछले पांच सालों से निर्माण को तरस रही है। इससे उत्पन्न आक्रोश पूरे विधानसभा क्षेत्र में विधायक के खिलाफ इनकम्बेंसी का प्रमुख कारण बनी हुई है। लिहाजा यह प्रमुख चुनावी मुद्दा बन जाए तो ताज्जुब नहीं होना चाहिए। बहरहाल उक्त सड़क के चौड़ीकरण और पनर्निर्माण को उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा वित्तीय स्वीकृति प्राप्त हो गई है मगर अचार संहिता के कारण निर्माण चुनाव बाद ही संभव है।

सड़क निमार्ण का वादा किया था

सदर सीट में जिला मुख्यालय से लोटन तक जाने वाली लगभग 20  किमी लम्बी सड़क का नाम तेतरी-सोहांस रोड है। इसी सड़क के पांचवें किमी पर ग्राम पंचायत जगदीशपुर के एक टोले पर विधायक श्यामधनी राही का आवास है। वर्ष 2017 में श्यामधनी राही पहली बार विधायक बने तब इस सड़क की दश बेहद खराब थी। क्षेत्र के लोगों ने बम्पर वोटे श्यामधनी राही को इस उम्मीद  में दिया था कि वह जीते तो सड़क की दशा जूरुर बदल जाएगी। चुनाव जीतेने के बाद विधायक राही ने इसे पहली वरीयता देकर नवनिर्माण का वादा भी किया था।

आशा अनुरूप श्यामधनी राही जीते भी। उन्होंने सड़क बनवाने की घोषणा भी की, मगर  पिछले पांच सालों में सड़क तो नहीं बनी उलट उसका बचा खुचा अस्तित्व भी खत्म हो गया। वर्तममान में सड़क पर डामर का नामों निशान नहीं है। सड़क में कई फीट के लम्बे गहरे गड्डे हैं। हर बरसात में सड़क जमूआर नदी के पास पानी में डूब जाती है और कई कई दिन आवा गमन बंद रहता है। इसी सड़क से प्रतिदिन हजारों ग्रामीण आवागमन को अभिशप्त हैं। हैरत है कि स्वयं विधायक श्यामधनी राही भी प्रतिदिन इसी सड़क से आते जाते हैं।

जो अपनी सड़क न बनवा सका और क्या कर सकेगा

क्षेत्रीय जनता का कहना है कि वह विधायक जो पांच साल में अपने ही गांव घर की सड़क न बनवा सका हो, उसने क्षेत्र में क्या किया होगा, यह समझने की बात है। स्वयं उनके चचेरे भाई भी उनकी इस उदासीनता के कारण भाजपा छोड़ कर सपा में शामिल हो चुके हैं। क्षेत्रीय ग्रामीण तोलन कहते है कि हमारे विधायक जी पांच सालों में एक भी ऐसा काम नहीं करा पाये जिसे जनता के बीच बताया जा सकता हो। यही नही उनकी आलोचना किए जाने पर भाजपा के अनेक वर्कर कहते हैं कि इस बार विधायक का टिकट कट सकता है। उनके मुकाबले दो तीन भाजपा नेताओं की दावेदारी भी सामने है। परन्तु जब से नेताओं का भाजपा छोड़  सपा में जाने का क्रम बढ़ा है तबसे भाजपा ने 150 विधायकों का टिकट काटने की रण्नीति बदल दी है। इसलिए विधायक राही का टिकट कटने की आश कम हो गइ्र है।

विजय पासवान के हौसले बुलंद

फिलहाल राही के मुकाबले सपा नेता व पूर्व विधायक विजय पासवान  के हौसले बहुत बुलंद है। वे रोज सुबह सात बजे मतदाताओं से सम्पर्क में निकल जाते है और 10 बजे रात तक लौटते हैं। उनका कहना है कि भाजपा राज में किसान, नौजवान बहुत परेशान है। बेरोजगार पागल हो रहे हैं। यह सब सपा के पक्ष में है मगर उनके क्षेत्र में विधायक के गांव जाने वाली सड़क का  मुद्दा ही भाजपा को यहां से हराने के लिए काफी है।

विधायक श्यामधनी राही ने कहा

कपिलवस्तु विधानसभा (सदर) के विधायक श्यामधनी राही ने बताया है कि उक्त सड़क के चौड़ीकरण और सौंदर्यीकरण करण का शासन द्वारा स्वीकृत किया जा चुका है। धन आवंटित हो गया है। टेण्डर प्रक्रियाधीन है। चुनाव खत्म होते ही सड़क निर्माण प्रारम्भ हो जाएगा। क्षेत्रवासी इस बात को भलीभांति जानते हैं। क्षेत्र की जनता जागरूक है वह विपक्षियों के बहकावे में आने वाली नहीं है। भाजपा प्रचंड बहुमत से एक बार फिर महाराज योगी जी की सरकार बनाने जा रही है।

 

 

Leave a Reply