आंधी से केला किसान किसान तबाह, 1 करोड़ का हुआ नुकसान

May 18, 2017 5:35 PM0 commentsViews: 730
Share news

अमित श्रीवास्तव

kela

मिश्रौलिया, सिद्धार्थनगर। जिले में बुद्धवार को आये तूफान और पानी से जहाँ धान की फसल को लेकर किसानों को राहत मिली है वहीं खुनियांव विकास खण्ड के केले की खेती करने वाले किसानो को काफी नुकसान हुआ है। खुनियांव क्षेत्र को केले की खेती के लिए मिनी भुसावल कहा जाता है।

आंधी से खुनियांव विकास खण्ड के बढ़या, केरवनिया, बेलवा, मिठौवा, नागचौरी, गौरडीह, धोबहा सहित कई गांवो में केले की खेती बड़े पैमाने पर होती है।इसी वजह से इस क्षेत्र को मिनी भुसावल भी कहा जाता है। लगभग एक हजार हेक्टेयर में केले की खेती होती है।

बुद्धवार को आयी भीषण आन्धी से हरी छाल केले की फसल पूरी तरह नष्ट हो गयी। केले मे लगने वाली लागत काफी अधिक होती है जिससे केले की खेती करने वाले किसान बर्बाद हो गये हैं। किसानों का तकरीबन पांच करोड़ का नुकसान हुआ है।

बेलवा निवासी जिला सहकारी बैंक के उपाध्यक्ष प्रतीक राय शर्मा ने केले की खेती करने वाले किसानों के नुकासान जाँच कराकर नुकसान के मुआवजे की प्रदेश सरकार से मांग की है। उन्हेंने कहा कि इस आंधी से केले की खेती करने वाले किसानों की कमर टूट गई है।

Leave a Reply