गेंहूं कटाई में लगे मजदूर की बिजली करंट से मौत, साथ में 15 बीघा फसल भी जल कर राख

April 4, 2023 1:07 PM0 commentsViews: 362
Share news

पहले भी हो चुकी है मिश्रौलिया में लटकते तारों व स्पार्किंग से मां

व बेटी की मौत, फिर भी नहीं चेत रहा जिले का बिजली विभाग

अजीत सिंह

सिद्धार्थनगर। डुमरियागंज से सटे औसानपुर गांव के सीवान में गेहूं की कटाई के दौरान शार्ट-सर्किट से गेहूं की फसल में आग लग गई। आग से बाहर निकालते समय कंबाइन मशीन लटकते बिजली तार के संपर्क में आ गई। इससे मशीन पर बैठे मजूदर की करंट से मौत हो गई। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। आगलगी की घटना में 15 बीघा गेहूं की फसल जलकर नष्ट हो गई।

डुमरियागंज क्षेत्र के औसानपुर के सिवान में सोमवार दोपहर एक बजे महाराजगंज जनपद से कंबाइन मशीन लेकर आए फोरमैन मानवेंद्र चौधरी गेहूं की कटाई कर रहे थे। अभी थोड़ी देर ही मशीन चली थी कि वहां के निवासी निजामुद्दीन उर्फ छोटे चौधरी के खेत के ऊपर से गए 11 हजार वोल्टेज तार में शार्ट- सर्किट से आग लग गई। आग की लपटे बढ़ती देख मानवेंद्र चौधरी ने साथ में काम करने वाले मजदूर निलेश चौधरी (32) निवासी सिंहपुर, थाना थरौली, जनपद महाराजगंज को मशीन बाहर निकालने के लिए कहा। निकालते समय ऊपर से गुजर रहे हाईवोल्टेज तार के कंबाइन मशीन के संपर्क में आने से निलेश की करंट की चपेट में आकर मौत हो गई। आग लगने की सूचना पर स्थानीय ग्रामीणों के साथ-साथ अग्निशमन और पुलिस तथा तहसील प्रशासन के लोग पहुंचे और आग बुझाने में मदद की।

डुमरियागंज पुलिस ने शव का पंचनामा करके पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मौके पर पहुंचे हल्का लेखपाल रमेश चंद्र श्रीवास्तव ने आग से हुई क्षति का आकलन किया। डुमरियागंज थानाध्यक्ष बिंदेश्वरी मणि त्रिपाठी ने बताया कि मृतक मजदूर की लाश को पंचनामा करके पोस्टमाटम के लिए भेज दिया गया है। कंबाइन मशीन के फोरमैन की ओर से दी गई लिखित सूचना में मजदूर की मौत विद्ुत स्पर्शाघात से बताई गई है। बिजली विभाग के खिलाफ या किसी अन्य के खिलाफ कोई आरोप या तहरीर नहीं दी गई है।
इस बारे अधिशासी अभियंता विद्युत वितरण खंड दित्तीय रामसूरत ने बताया कि
उन्हें हादसे की कोई सूचना नहीं है। अभी जिले पर एक मीटिंग में आए हुए हैं। अपने सहायक कर्मियों से पता करवाते हैं। उन्हें बिजली तार नीचे लटकने और जर्जर होने की कोई शिकायत अभी तक नहीं मिली थी।

कई स्थानों पर अभी भी ढीले और नीचे लटक रहा है हाई वोल्टेज का तार

तहसील क्षेत्र के औसानपुर के सिवान में खेत के ऊपर से गई 11 हजार ओल्ड पावर की लाइन के नीचे लटक रहे तार के चलते कंबाइन मशीन में लगी आग और हादसे में मृतक मजदूर की घटना आगे भी घटने से इनकार नहीं किया जा सकता है। क्योंकि डुमरियागंज तहसील क्षेत्र के महुआ खुर्द, हल्लौर, जखोली, मिश्रौलिया, लालाजोत में भी कई स्थानों पर हाई वोल्टेज पावर की लाइन का तार ढीला होने के साथ-साथ नीचे लटक रहा है। इसे अगर सही ना कराया गया तो बड़े हादसे से इनकार नहीं किया जा सकता है।

तार टूटकर गिरने से हो गई थी मां और बेटी की मौत

मिश्रौलिया थाना क्षेत्र के रेहरा गांव में 23 फरवरी को प्याज के खेत में काम कर रहीं मां और बेटी पर उपर से गुजरा रहा बिजली का तार टूटकर गिर गया था। इस हादसे में मीना देवी और उसकी बेटी उषा की घटना स्थल पर ही मौत हो गई थी। ग्रामीणों ने आरोप लगाया था कि घटना के दौरान कई बार सूचना दी गई, लेकिन बिजली कर्मी नहीं आए। उनका आरोप था कि 40 साल पुराने तार से आपूर्ति हो रही थी। आए दिन तार टूटकर गिरता था। अगर तार पहले बदला गया होता तो शायद मौत नहीं होती। बिजली निगम की लारवाही से मौत हुई थी। ऐसा ग्राम प्रधान ने आरोप लगाया था।

Leave a Reply