कोटेदारों के खिलाफ कार्यवाही न होने से आक्रोश, जनता के साथ सभासद करेंगे आमरण अनशन

December 8, 2018 10:59 pm0 commentsViews: 155
Share news

सुरेश मिश्रा

 

सिद्धार्थनगर। बीते सप्ताह नगर पंचायतब शोहरतगढ़ में सैकड़ों रासन कार्ड धारकों ने रासन वितरण के दौरान घटतौली करने, अधिक मूल्य वसूलने, दर्ज यूनिट से कम यूनिट के हिसाब से रासन न देने के कारण पूरे नगर की जनता में आक्रोश भरा हुआ है जिसे देखते हुये एक दिसंबर को सभासद अफसर अंसारी, सभासाद बाबूजी व संजीव जैसवाल ने अपने अपने वार्डों के पीड़ित व्यक्तियों का स्थानीय पूर्ति निरीक्षक के पास लोगों के लिखित बयान दर्ज करवा कर कड़ी कार्रवाई की मांग की थी कई दिन बीते लेकिन कार्रवाई जीरो रही। इस मामले में जब एसडीएम शोहरतगढ़ से बात की गई तो उन्होंने बताया कि जांच के उपरांत कार्यवाही की संस्तुति कर डी एस ओ सिद्धार्थ नगर को रेफेर कर दिया गया है।

बयान दर्ज कर कार्यवाही की मांग करने वाली गांधी नगर वार्ड की एक पीड़िता विधवा वृद्धा एवं विकलांग रासन लेने की पीड़ा को पत्रकार से साझा करते हुवे बताया कि उसे एक साल से कोटेदार रासन नहीं दे रहा है उन्होंने बताया कि इस मामले को लेकर मैं नेताओं जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों के सामने अपनी फरियाद करके थक हारकर बैठ गयी हैं।

समुंदरी की एक मार्ग दुर्घटना में जांघ की हड्डी टूट गयी है डॉक्टरों ने ऑपरेशन करके स्टील का रॉड लगा दिया है जब वे चलती हैं तो रॉड पड़ने के कारण उन्हें असहनीय दर्द होता है कोटेदार के यहां पहुँचने में चार पांच बार बैठ कर आराम करना पड़ता है जब वे कोटेदार के यहां पहुँचती थी तो कोटेदार आधार लिंक न होने का बहाना कर और भद्दी भद्दी गालियां देकर भगा देता था, अपनी दर्द को बताते बताते उस बूढ़ी असहाय और निरीह की आंखों में आंसू छलक उठे ।

अपमान और बेबसी से मन मसोस कर रह जाती है । ऐसी ही कहानी लगभग पूरे नगर पंचायत में फैली हुई है ।उपभोक्ता कोटेदारों की बदनीयती बयान करते हुए आपूर्ति अधिकारी को सुनाते रहे । लक्सरी गाड़ी से जांच करने पहुँचे स्थानीय पूर्ति अधिकारी और एक सभासद कोटेदारों के पक्ष में सहानुभूति दिखाते हुए जनता को कोटेदार की पीड़ा और नियम कानून समझाते रहे ।

बताते चलें कि नगर के कुछ सभासद आम जनता के लिए जान देने को तैयार है वहीं दूसरी तरफ एक सभासद कोटेदार से हमदर्दी रखते दिखे अभीतक कोटेदारों के खिलाफ जिला पूर्ति अधिकारी स्तर से कार्यवाही नहीं होने के कारण सभासद संजीव जैसवाल , बाबूजी अंसारी व समाज सेवी सुरेश आदि ने जिलाधिकारी कुणाल सिलकु से मिलकर कस्बे के कोटेदारों की करनी बयान की जिसे गंभीरता से लेते हुवे शीघ्र कार्यवाही का भरोसा दिया । सभासद ने बताया कि लाइसेंस निरस्त होने तक लड़ाई जारी रहेगी ।

(55)

Leave a Reply


error: Content is protected !!